IPL 2019: After defeat from 1 run Chennai will try to get back rhythm against Hyderabad
MS Dhoni with Kane williamson @ BCCI

पिछले मैच में महेंद्र सिंह धोनी की चमत्कारी पारी के बावजूद एक रन से हारी चेन्नई को हैदराबाद के खिलाफ मंगलवार को आईपीएल 2019 के मैच में शीर्षक्रम से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

एक ओर चेन्नई की समस्या उसके शीर्षक्रम का खराब प्रदर्शन है तो हैदराबाद के लिये सिर्फ सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (517 रन) और जॉनी बेयरस्टा (445) ही रन मशीन बने हुए हैं । उसका मध्यक्रम अमूमन फ्लाप ही रहा है। बैंगलुरू के खिलाफ रविवार के मैच में हर किसी की जबां पर धोनी की धुआंधार पारी के चर्चे है लेकिन यह नहीं भूलना चाहिये कि शीर्ष तीन बल्लेबाजों की नाकामी से कप्तान पर बेवजह दबाव बना।

पढ़ें: “टीम इंडिया को ये विश्व कप जिता सकते हैं ‘कैप्टन कूल’ और किंग कोहली”

पिछले सीजन के हीरो शेन वॉटसन (147 रन) , अंबाती रायडू (192 रन) और सुरेश रैना (207 रन) अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर सके हैं। ऐसे में दबाव धोनी पर आ गया है जो अभी तक 314 रन बना चुके हैं। धोनी ने कल की हार के बाद कहा था ,‘‘शीर्ष तीन बल्लेबाजों को फिनिशर की भूमिका निभानी होगी।’’ अपने मैदान पर लौटी चेन्नई की टीम भले ही इस मैच में प्रबल दावेदार हो लेकिन यह हैदराबाद के बेयरस्‍टो का यह इस सीजन का आखिरी मैच है जो विश्व कप की तैयारी के लिये स्वदेश लौट रहे हैं।

पढ़ें:- महेंद्र सिंह धोनी को मेरा हेलीकॉप्टर शॉट पसंद आया: हार्दिक पांड्या

अभी तक धीमी साबित हुई चेपॉक की पिच की आलोचना करते हुए चेन्नई के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने इसे शीर्ष बल्लेबाजों की विफलता का एक कारण बताया। उन्होंने कहा, ‘‘चेन्नई की पिच पर फॉर्म हासिल करना मुश्किल है। हमने भी कुछ खराब खेला। ऐसे में धोनी और रायडू पर काफी दबाव आ गया और यह जारी रहने पर हम टूर्नामेंट नहीं जीत सकेंगे।’’ दूसरी ओर हैदराबाद के हौसले कोलकाता पर मिली जीत के बाद बुलंद है और अंकतालिका में चौथे स्थान पर आने के बाद वो इस लय को कायम रखना चाहेंगे।