IPL 2019: Hyderabad eying hattrick of victory in a match against delhi
Shreyas Iye, kane williamson

इंडियन टी20 लीग का 16वां मुकाबला दिल्‍ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में मेजबान टीम और हैदराबाद के बीच गुरुवार को खेला जाना है। दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर को इस मैच में जीत दर्ज करनी है तो अपने निचले क्रम के अनियमित प्रदर्शन की समस्या से पार पाना होगा।

पंजाब के खिलाफ दिल्‍ली के निचले क्रम के बल्लेबाज टिक नहीं सके और जीती हुई बाजी महज 16 गेंद में हाथ से फिसल गई। इससे पहले कोलकाता के खिलाफ भी दिल्‍ली का यही हाल हुआ था। दूसरी ओर लगातार दो जीत दर्ज करके हैदराबाद के हौसले बुलंद हैं। तीन बार की चैम्पियन मुंबई को हराकर दिल्ली ने टूर्नामेंट में शानदार शुरूआत की थी लेकिन इसके बाद से निचला क्रम उसकी परेशानी का सबब बना हुआ है।

पढ़ें: ‘भाग्‍यशाली हूं कि कोहली और डिविलियर्स जैसे बल्‍लेबाजों के विकेट मिले’

दिल्ली चार मैचों के बाद दो जीत के साथ पांचवें स्थान पर है। कोलकाता के खिलाफ आखिरी ओवर में दिल्‍ली छह रन नहीं बना पाई थ और मैच सुपर ओवर तक खिंच गया। सुपर ओवर में कगीसो रबाडा के शानदार यार्कर के चलते टीम जीत सकी।

पंजाब के खिलाफ दिल्ली ने पिछले मैच में आखिरी 7 विकेट आठ रन के भीतर गंवा दिये थे। उन्‍हें 14 रन से हार मिली। अय्यर ने कहा था ,‘‘ मेरे पास शब्द नहीं है। यह निराशाजनक है। यह अहम मैच था और ऐसे मैच नहीं हारने चाहिये। हमें मानसिक तैयारी बेहतर करनी होगी।’’

दिल्ली के पास रबाडा के अलावा ट्रेंट बोल्ट और इशांत शर्मा जैसे गेंदबाज है। नेपाल के लेग स्पिनर संदीप लामिछाने ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। असली मुकाबला रबाडा और क्रिस कॉरिस जैसे दिल्ली के तेज गेंदबाजों और शानदार प्रदर्शन कर रहे डेविड वार्नर और जोनी बेयरस्टो जैसे हैदराबाद के बल्लेबाजों के बीच होगा।

पढ़ें: वर्ल्‍ड कप के लिए न्‍यूजीलैंड की टीम की घोषणा, अनकैप्‍ड टॉम ब्‍लंडेल शामिल

वार्नर और बेयरस्टा ने इस साल तीनों मैचों में शतकीय साझेदारियां की है। कोलकाता के खिलाफ 118 रन की साझेदारी के बाद उन्होंने राजस्‍थान खिलाफ 110 और बैंगलुरू  के खिलाफ 185 रन जोड़े थे। बैंगलुरू के खिलाफ पिछले मैच में वार्नर और बेयरस्‍टाे दोनों ने शतक जमाये।

कोलकाता से पहला मैच छह विकेट से हारने के बाद हैदराबाद ने जीत की राह पर वापसी की और अब वे इसकी हैट्रिक लगाना चाहेंगे। अफगान स्पिनर मोहम्मद नबी और रशीद खान ने भी जीत में अहम भूमिका निभाई जबकि तेज गेंदबाज संदीप शर्मा ने चार विकेट लिये, लेकिन अनुभवी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार का डेथ ओवरों में औसत प्रदर्शन चिंता का सबब है।