IPL 2019: Kolkata eying victory against Rajasthan after five consecutive defeat
Dinesh Karthik (File Photo) @ BCCI

लगातार पांच हार झेलकर आईपीएल के 12वें संस्करण से बाहर होने के कगार पर खड़ी कोलकाता गुरुवार को ईडन गार्डन्स पर राजस्थान के साथ होने वाले मैच में हर हाल में जीत दर्ज करना चाहेगी। टूर्नामेंट में उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए दोनों ही टीमों के लिए यह मैच बेहद अहम है।

दो बार की चैम्पियन कोलकाता ने शानदार तरीके से सीजन की शुरुआत की थी लेकिन लीग के बीच में आकर वह जीत की पटरी से उतर चुकी है। टीम इस समय 10 मैचों में चार जीत और छह हार के साथ अंकतालिका में छठे नंबर पर है। कोलकाता को प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अब अपने सभी चारों मैच जीतने होंगे।

पढ़ें:- पिछली टीम में काफी पहले बाहर कर दिया गया होता: शेन वॉटसन

टीम के लिए चिंता की बात यह है कि कप्तान दिनेश कार्तिक की नेतृत्व क्षमता सवालों के घेरे में है और उनके बल्ले से रन भी नहीं निकल पा रहा है। कार्तिक ने लीग के 10 मैचों में अबतक केवल 117 रन ही बनाए हैं। विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल किए गए कार्तिक का फॉर्म में लौटना न सिर्फ कोलकाता के लिए बल्कि भारतीय टीम के लिए भी अच्छा होगा।

कोलकाता की टीम ज्यादातर कैरेबियाई विस्फोटक बल्लेबाज आंद्रे रसेल पर ही टिकी हुई दिखाई दे रही है, जिन्होंने अबतक 10 मैचों में 392 रन बनाए हैं। गेंदबाजी में सर्वाधिक विकेट लेने वालों की सूची में कोलकाता का कोई भी गेंदबाज टॉप-10 में शामिल नहीं है। दूसरी तरफ, राजस्थान के लिए भी अब यह टूर्नामेंट करो या मरो वाला हो गया है। टीम को प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखने के लिए अब अपने बाकी बचे सभी मैच जीतने होंगे।

पढ़ें:- हरभजन सिंह बोले- कुछ मैच बाद वापसी कर अच्‍छा लग रहा है

राजस्थान इस समय 10 मैचों में तीन जीत और सात हार के साथ सातवें नंबर पर है। टीम प्रबंधन ने अपने पिछले मैच से पहले अजिंक्य रहाणे को कप्तानी से हटाकर स्टीवन स्मिथ को कप्तान बनाया है। उनकी कप्तानी में टीम ने एक मैच जीता लेकिन फिर से दिल्ली से साथ हुए मैच में टीम जीत की पटरी से उतर गई। हालांकि कप्तानी का बोझ हटने के बाद रहाणे ने अच्छा प्रदर्शन किया है और उन्होंने पिछले मैच में दिल्ली के खिलाफ नाबाद 105 रन की पारी खेली थी। टीम चाहेगी कि रहाणे इसी फॉर्म को आगे भी बरकरार रखें।

टीम को अब जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स की सेवाएं भी नहीं मिल पाएंगी। दोनों खिलाड़ी विश्व कप की तैयारियों के लिए 15 सदस्यीय इंग्लैंड की टीम से जुड़ जाएंगे।

टीमें :

कोलकाता : दिनेश कार्तिक (कप्तान), सुनील नरेन, आंद्रे रसेल, कार्लोस ब्रैथवेट, जो डेनली, लॉकी फग्र्यूसन, क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा, हैरी गर्नले, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नीतीश राणा, संदीप वॉरियर, के.सी. करियप्पा, शुभमन गिल, श्रीकांत मुंधे, निखिल नाइक, पृथ्वी राज और प्रसिद्ध कृष्णा।

राजस्थान : अजिंक्य रहाणे, कृष्णप्पा गौतम, संजू सैमसन, श्रेयस गोपाल, आर्यमान बिड़ला, एस. मिधुन, प्रशांत चोपड़ा, स्टुअर्ट बिन्नी, राहुल त्रिपाठी, बेन स्टोक्स, स्टीव स्मिथ (कप्तान), जोस बटलर, जोफ्रा आर्चर, ईश सोढ़ी, धवल कुलकर्णी, महिपाल लोमरोर, जयदेव उनादकट, वरुण एरॉन, ओशेन थॉमस, शशांक सिंह, लियाम लिविंगस्टोन, शुभम रंजाने, मनन वोहरा, एश्टन टर्नर, रियान पराग।