IPL 2019, Qualifier 2: Faf du Plessis, Shane Watson hits half century, Chennai Super Kings beat Delhi Capitals by 6 Wickets, CSK Enter Final
Faf du Plessis with Watson @BCCI

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद ओपनर फाफ डु प्‍लेसिस (50) और शेन वॉटसन (50) के अर्धशतकों की बदौलत चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स ने आईपीएल के दूसरे क्‍वालीफायर  मुकाबले में दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स को 6 विकेट से हराकर फाइनल में प्रवेश कर लिया।

पढ़ें: आईपीएल फाइनल से पहले ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की चेतावनी

8वीं बार फाइनल में पहुंचने वाली चेन्‍नई का सामना खिताबी मुकाबले में रविवार को मुंबई इंडियंस से होगा। दिल्‍ली की ओर से रखे गए 148 रन के लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी चेन्‍नई की टीम ने 19 ओवर में 4 विकेट पर 151 रन बनाए।

डु प्‍लेसिस और वॉटसन ने दिलाई धमाकेदार शुरुआत

अनुभवी सलामी बल्‍लेबाज डु प्‍लेसिस और वॉटसन ने चेन्‍नई को बेहतरीन शुरुआत दिलाई। दोनों ने 10.2 ओवर में 81 रन की साझेदारी की। वॉटसन पिछले कुछ मैचों से अच्‍छे फॉर्म में नहीं चल रहे थे लेकिन इस मैच में उन्‍होंने अहम मौके पर अर्धशतकीय पारी खेली।

पढ़ें: स्टीव स्मिथ अपने जीवन की सर्वश्रेष्ठ शारीरिक स्थिति में : जस्टिन लैंगर

डु प्‍लेसिस ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 39 गेंदों पर 7 चौके और 1 छक्‍का लगाया जबकि वॉटसन ने 32 गेंदों पर 3 चौके और चार छक्‍के जड़े। सुरेश रैना 13 गेंदों पर 11 रन बनाकर आउट हुए। रैना जब आउट हुए उस समय चेन्‍नई का कुल स्‍कोर 127 रन था। कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी 9 गेंदों पर 9 रन बनाकर आउट हुए जबकि अंबाती रायडू 20 रन पर नाबाद लौटे।

दिल्‍ली की ओर से ट्रेंट बोल्‍ट, इशांत शर्मा, अमित मिश्रा और अक्षर पटेल ने एक-एक विकेट लिया।

चेन्‍नई के गेंदबाजों ने दिल्‍ली को 147 रन पर रोका

चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजों ने बेहतरीन गेंदबाजी कर दिल्ली को 9 विकेट पर 147 रन ही बनाने दिए। दिल्ली की ओर से रिषभ पंत ने 25 गेंदों पर सर्वाधिक 38 रन बनाए। पंत के अलावा कॉलिन मुनरो (24 गेंदों पर 27 रन) ही 20 रन के पार पहुंचे। दिल्ली के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने अंतिम 8 गेंदों पर 22 रन बनाकर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

पढ़ें: IPL 2019: अनिल कुंबले ने चुनी ड्रीम टीम, विराट कोहली को जगह नहीं

चेन्नई की ओर से से ड्वेन ब्रावो (19/2), रविंद्र जडेजा (23/2), दीपक चाहर (28/2) और हरभजन सिंह (31/2) ने कुल आठ विकेट निकाले।

दिल्‍ली के नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे

चेन्‍नई ने टॉस जीतकर दिल्‍ली को पहले बल्‍लेबाजी का न्‍यौता दिया। दिल्‍ली के नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे। शुरुआती 10 ओवर में अगर शिखर धवन के दूसरे ओवर में शार्दुल ठाकुर पर लगाए गए तीन चौकों को छोड़ दिया जाए तो चेन्नई ने शिकंजा कस रखा था। इन दस ओवरों में दिल्ली ने 68 रन बनाए। इस बीच पृथ्वी शॉ (05), धवन (18) और मुनरो के विकेट गंवाए।

मुनरो फिर अच्‍छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए

धोनी की डीआरएस में कुशलता के कारण शॉ को पवेलियन लौटना पड़ा क्योंकि अंपायर ने दीपक चाहर की एलबीडब्‍ल्‍यू की अपील पहले ठुकरा दी थी। धोनी ने इसके बाद हरभजन की गेंद पर दूसरे प्रयास में धवन का कैच लपका जबकि मुनरो फिर से अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए और उन्होंने जडेजा को अपना विकेट इनाम में दिया।

ताहिर ने श्रेयस को गुगली पर गच्‍चा दिया

कप्तान श्रेयस अय्यर और पंत क्रीज पर थे लेकिन विकेट गिरने का क्रम नहीं थमा। इमरान ताहिर ने अय्यर (13) को गुगली पर गच्चा देकर हवा में गेंद लहराकर आसान कैच देने के लिए मजबूर किया। अक्षर पटेल (03) आउट होने वाले अगले बल्लेबाज थे जिन्हें ड्वेन ब्रावो ने पवेलियन भेजा।

रदरफोर्ड के छक्‍के से दिल्‍ली 16वें ओवर में तिहरे अंक में पहुंची

शेरफेन रदरफोर्ड (10) के छक्के से दिल्ली 16वें ओवर में तिहरे अंक में पहुंची। हरभजन ने हालांकि इसी ओवर में शेरफेन से बदला चुकता कर दिया। दिल्ली फिर भी आश्वस्त थी क्योंकि पंत क्रीज पर थे। उन्होंने ताहिर पर लगातार चौका और छक्का लगाया। चाहर ने छह रन को जा रही गेंद कैच कर ली थी लेकिन वह खुद पर नियंत्रण नहीं रख पाए थे। ऐसे में पंत को यहां जीवनदान मिल गया।

कीमो पॉल ने ब्रावो की गेंद पर बोल्ड होने से पहले डेथ ओवरों में सात गेंदें खेली और 3 रन बनाए। पंत भी चाहर की गेंद पर लॉन्‍गऑन पर कैच दे बैठे लेकिन उनके आउट होने के बाद दिल्ली ने आखिरी आठ गेंदों पर 22 रन बनाए जिसमें बोल्ट (6) और इशांत  (नाबाद 10) के अंतिम ओवर में जडेजा पर लगाए गए छक्के शामिल हैं।