IPL 2019: Virat Kohli’s Bangalore eyes first win against Delhi

इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सीजन में लगातार पांच हार के साथ तालिका में निचले पायदान पर काबिज रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तान विराट कोहली की टीम जब रविवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैदान में उतरेगी तो उसकी नजरें दमदार प्रदर्शन करके पहली जीत दर्ज करने पर होगी।

बैंगलोर को सीजन में पहली जीत का इंतजार है तो वहीं दिल्ली की टीम यहां पांच मैचों में दो जीत के साथ पहुंची है।केकेआर से शुक्रवार को मिली शिकस्त के बाद बैंगलोर की टूर्नामेंट के खिताबी दौड़ में बने रहने की चुनौती होगी। अपनी उम्मीदों को बनाए रखने के लिए टीम को बचे हुए लगभग सभी मैचों को जीतना होगा।

ये भी पढ़ें: चिन्नास्वामी में चमके रसेल, कोहली-डिविलियर्स की शानदार साझेदारी

केकेआर के खिलाफ कोहली ने 49 गेंदों पर नौ चौकों और दो छक्कों की मदद से 84 रन जबकि डिविलियर्स ने 32 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली जिसमें पांच चौके और चार छक्के शामिल हैं। इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 108 रन जोड़े लेकिन आंद्रे रसेल की धुआंधार पारी के कारण टीम 205 रन के बड़े स्कोर का बचाव नहीं कर सकी।

इस मैच में युजवेंद्र चहल और पवन नेगी के अलावा बैंगलोर के गेंदबाज ना तो ज्यादा विकेट लेने में सफल रहे है ना ही रन रोकने में। केकेआर के खिलाफ अंतिम चार ओवर में 66 रन लुटाने पर कोहली ने भी गेंदबाजों की खिंचाई की थी।

बल्लेबाजी में भी टीम का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ टीम सिर्फ 70 रन बना सकी तो वहीं सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ उनकी पारी 113 रन पर सिमट गई। राजस्थान के खिलाफ भी टीम का शीर्ष क्रम नहीं चला था। ऐसे में दिल्ली के खिलाफ टीम को शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों से उम्मीदें होंगी।

ये भी पढ़ें: राजस्थान के सामने केकेआर के बल्लेबाजों को रोकने की चुनौती

दिल्ली के लिए मुश्किलें कम नहीं रही हैं। पहले मैच में मुंबई के खिलाफ जीत दर्ज करने के बाद टीम को तीन हार का समाना करना पड़ा। रिषभ पंत ने मुंबई के खिलाफ 78 रन बनाए थे जबकि शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, श्रेयस अय्यर और कॉलिन इनग्राम लय में हैं।

गेंदबाजी विभाग की अगुवाई कगीसो रबाडा कर रहे हैं जिसमें ट्रेंट बोल्ट और इशांत शर्मा जैसे अनुभवी गेंदबाज भी शामिल हैं। युवा लेग स्पिनर संदीप लामिछाने ने भी दिल्ली के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है।