जैसा कि अनुमान लगाया जा रहा था भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन भारत से बाहर करा सकता है। यूएई और श्रीलंका आईपीएल के नए वेन्यू की रेस में सबसे आगे हैं।

बीसीसीआई आईपीएल के आयोजन के लिए सितंबर-अक्टूबर विंडो पर नजर जमाए हुए है, हालांकि बोर्ड फिलहाल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप को लेकर आधिकारिक फैसला आने का इंतजार कर रही है।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने आईएएनएस से बातचीत में कहा, “हमें अभी भी जगह को लेकर फैसला लेना है लेकिन संभावना कई ज्यादा इस बात की है कि ये लीग इस साल देश से बाहर होगी। भारत में स्थिति ऐसी नहीं है कि यहां कई सारी टीमें एक या दो स्थलों पर आएं और एक ऐसा वातावरण बनाए जो खिलाड़ियों के अलावा आम जनता के लिए भी ठीक है, चाहे मैच बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम में ही क्यों न खेले जाएं।”

उन्होंने कहा, “मेजबानी को लेकर रेस यूएई और श्रीलंका के बीच है। हमें इस पर फैसला लेना है कि कहां लीग करानी है और इसके लिए वहां की कोरोनावायरस स्थिति को अच्छे से देखना होगा। व्यवस्था को भी देखना होगा, हम जल्दी फैसला लेंगे।”

शुरुआत में लीग का भारत में ही कराने का मन था, लेकिन मौजूदा स्थिति के मुताबिक यह साफ है कि कुछ टूर्नामेंट्स को देश से बाहर ले जाना होगा। आईएएनएस ने पहले ही अपनी रिपोर्ट में बताया था कि बीसीसीआई में फैसला करने वाले लोग लीग कहां करानी है इसे लेकर 3-2 के अनुपात में बंटे हैं।