IPL 2020: Aakash Chopra reveals weaknesses of Royal Challengers Bangalore

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ओपनर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने आगामी इंडियन प्रीमियर लीग 2020 (IPL 2020) में विराट कोहली (Virat Kohli) की अगुआई वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम की कमजोरी ढूढ ली है। आकाश का मानना है कि पिछले साल खिलाड़ियों की नीलामी में आरसीबी सेलेक्टर्स से बहुत बड़ी चूक हुई।

क्रिकेट से कमेंटेटर बने आकाश ने कहा कि आरसीबी (RCB) ने नीलामी में चूक की भरपाई ट्रेडिंग विंडो के जरिए करने की कोशिश की। आकाश ने अपने यूट्यूब चैनल पर अपलोड किए गए वीडियो में कहा, ‘ आरसीबी स्क्वॉड में कुछ कमजोर कड़िया हैं। ये सच है कि जब आप पहले नीलामी में अच्छा नहीं कर पाते हैं तो आप पीछे छूट जाते हो। इसके बाद आप मिनी ऑक्शन या ट्रेडिंग विंडो में खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ने की कोशिश करते हो। इसके जरिए आप खाई को पाटने की कोशिश करते हो।’

IPL History Most Man of the Match: सर्वाधिक बार ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने गए टॉप-5 में Dhoni और रोहित शामिल

आकाश ने आरसीबी की बैटिंग लाइनअप के बारे में कहा कि शिवम दूबे, क्रिस मॉरिस, वाशिंगटन सुंदर और मोइन अली को शामिल करने के साथ फिनिशर की समस्या को दूर करने में सफल रही है।

केकेआर के इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘ आरसीबी की सबसे बड़ी समस्या डेथ ओवर में बैटिंग है। यदि एबी डीविलियर्स और विराट कोहली अंत तक क्रीज पर मौजूद रहते हैं तब तो ठीक है लेकिन जब ये नहीं होंगे तो कौन होगा? यह चिंता का विषय हो सकता है। हालांकि यह पहले से बेहतर है क्योंकि उनके पास मोइन अली, शिवम दूबे, वाशिंगटन सुंदर और क्रिस मॉरिस हैं। दूबे और सुंदर ने इंडिया के लिए अच्छा किया है। इन्होंने रन भी बनाए हैं। उन्हें मोइन अली को लोअर ऑर्डर में खिलाना चाहिए।

IPL 2020 Players: मलिंगा, रैना सहित इन 7 खिलाड़ियों का नहीं दिखेगा जलवा, जानिए पूरी डिटेल

42 वर्षीय आकाश ने कहा कि आरसीबी के पास डेथ ओवर्स में गेंदबाजों की कमी है। बकौल आकाश, ‘ आरसीबी की दूसरी समस्या डेथ ओवर्स में बॉलिंग है। क्रिस मॉरिस डेथ ओवर्स के गेंदबाज नहीं हैं। यदि आप डेल स्टेन को भी खिलाते हो तो वे भी डेथ ओवर्स के गेंदबाज नहीं हैं। तब डेथ ओवर्स में गेंदबाजी कौन करेगा, नवदीप सैनी, उमेश यादव, मोहम्मद सिराज। ये उस आत्मविश्वास को नहीं दिखाते जो आप चाहते हैं।’