IPL 2020: Challenging to live in bio bubble, Will miss fans in stadium, says Shreyas Iyer
श्रेयस अय्यर (BCCI)

किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ इंडियन प्रीमियर लीग में अपने अभियान के आगाज से पूर्व दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने स्वीकार किया कि बायो बबल में रहना चुनौतीपूर्ण है और मैदान पर टीम को दर्शकों की कमी जरूर खलेगी।

कोरोना वायरस महामारी के कारण यूएई में हो रहे इस आईपीएल में स्वास्थ्य और सुरक्षा के कड़े प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है। आम तौर पर खचाखच भरे स्टेडियम में होने वाले आईपीएल मैच इस बार खाली स्टेडियमों में होंगे।

श्रेयस ने वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘बायो बबल में रहना काफी चुनौतीपूर्ण है क्योंकि आखिर हम सब भी इंसान है लेकिन हम कड़ाई से स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। कुछ टीम गतिविधियां भी करते हैं ताकि परिवार से दूर रहने की कमी महसूस नहीं हो।’’

IPL 2020: यूएई की पिचों पर वैरिएशन दिखाने के लिए तैयार हैं अमित मिश्रा

मैच के दौरान एक दूसरे के गले लगकर या हाथ मिलाकर तो जश्न मनाना संभव नहीं, लिहाजा कामयाबी की खुशी कैसे जाहिर करेंगे, ये पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘हमने दो अभ्यास मैच खेले लेकिन उसमें जश्न नहीं मनाया। असल में इस संबंध में हमें आज एक विशेष सेशन में बताया जाएगा।’’

दर्शकों की कमी कितनी महसूस होगी, इस बारे में दिल्ली के कप्तान ने कहा, ‘‘आईसीसी से स्वीकृत प्रोटोकॉल का पालन तो करना है लेकिन दर्शक हमें ऊर्जा देते हैं। मैदान पर शोर, तालियों की कमी जरूर खलेगी लेकिन मुझे यकीन है कि इसके लिए कोई वैकल्पिक इंतजाम किया गया होगा।’’

कई सत्रों की नाकामी के बाद दिल्ली की टीम नए मालिक, नए कोचिंग स्टाफ और बदलाव के साथ पिछले सीजन में अच्छा प्रदर्शन करते हुए तीसरे स्थान पर रही थी।

किंग्स इलेवन पंजाब के पास आईपीएल जीतने वाला स्क्वाड है: कोच कुंबले

श्रेयस ने इस बारे में कहा, ‘‘पिछले सीजन में किसी खिलाड़ी ने किसी बात की शिकायत नहीं की। थकान या आत्ममुग्धता नहीं थी। सभी ने अपनी जिम्मेदारी निभाई और हम अच्छा प्रदर्शन कर सके। एक परिवार की तरह हम सुख दुख में एकजुट रहे और यही कामयाबी की वजह भी रही।’’

इस बार दिल्ली टीम में अनुभवी स्पिनर आर अश्विन जुड़े हैं जो किंग्स इलेवन पंजाब से आए हैं और श्रेयस का मानना है कि उनके अनुभव का इन पिचों पर टीम को काफी फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा, ‘‘अश्विन और अजिंक्य रहाणे टीम में अपार अनुभव लेकर आए हैं। अभ्यास के दौरान उन्होंने महसूस नहीं होने दिया कि वे सीनियर हैं बल्कि वे टीम का हिस्सा बन गए और जूनियर खिलाड़ियों को उनसे काफी सीखने को मिल रहा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘यहां विकेट धीमी है और अश्विन को हर तरह की विकेट पर गेंदबाजी करने का अनुभव है लिहाजा वह काफी उपयोगी साबित होंगे।’’