IPL 2020: Ishan Kishan is learning the tricks of the game from Kieron Pollard and Hardik Pandya
इशान किशन (AFP)

मुंबई इंडियंस के युवा बल्लेबाज इशान किशन ने कहा कि उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग में सीखा है कि टी20 मैच सिर्फ बड़े शॉट लगाने के बारे में नहीं है बल्कि खेल के दूसरे पहलू भी प्रतियोगिता के परिणाम को प्रभावित करते हैं। रॉयल चैंलेंजर बेंगलोर के खिलाफ 99 रन की धुंआधार पारी खेलने वाले किशन ने कहा कि वो कीरोन पोलार्ड और हार्दिक पांड्या जैसे सीनियर खिलाड़ियों से इस खेल के गुर सीख रहे हैं।

झारखंड के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, ‘‘मैं पिछले तीन साल से उनके साथ काम कर रहा हूं और मुझे पता है कि वे कैसे खेल की योजना बनाते हैं। यह केवल ताकत के बारे में नहीं है। यह खेल को आखिर तक ले जाने और गेंदबाजों पर दबाव डालने के बारे में हैं।’’

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ अगले मुकाबले के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘उनकी टीम में कुछ अच्छे गेंदबाज है। मुझे पता है कि ये एक छोटा स्टेडियम है, लेकिन साथ ही, अगर हमें ढीली गेंदें नहीं मिलती हैं, तो हमें उन गेंदों का सम्मान करना होगा।’’

कोलकाता के खिलाफ मैच में खेल सकते हैं अश्विन: गेंदबाजी कोच हैरिस

किशन ने बताया कि सीजन शुरू होने से पहले उन्होंने अपनी कमजोरियों पर काम किया। उन्होंने कहा, “मैं कवर्स की ओर शॉट खेलने में अच्छा नहीं था लेकिन मैंने सीजन शुरू होने से पहले इस पर काम किया और अगर मुझे वहां गेंद मिलती है को मैं उसके पीछे जाता हूं लेकिन ये ऐसी चीज है जिसके लिए हर टीम आपके खिलाफ योजना बनाती है, वो मैच से पहले बैठक करते हैं, उन्हें पता है कि वो आपकी कमजोरी है और फिर वो आपको वहीं गेंदबाजी करते हैं लेकिन हमारे लिए ये जरूरी है कि हम सीजन शुरू होने से पहले इसके लिए अभ्यास करें।”

‘विराट कोहली खुलकर खेलने की आजादी देते हैं’

किशन ने अब तक खेले दो मैचों में कु 127 रन बनाए हैं। उनका कहना है कि यूएई की पिचें स्पिनरों के लिए मददगार हैं लेकिन उन्होंने हर स्थिति के लिए तैयारी की है।

उन्होंने कहा, “जब हम दुबई आए, प्रैक्टिस के लिए मिली पिच बहुत धीमी थी। हम आईपीएल के पहले हिस्से के खत्म होने के बाद गेंदबाजों को मदद मिलेगी, खासकर कि स्पिनर्स को लेकिन हमने उन हालातों के लिए भी तैयारी की है और हमने घरेलू सीजन में भी यही किया था।”

किशन ने आगे कहा, “हमें बल्लेबाजी के लिए आसान विकेट नहीं मिलती है। हमें केवल अपनी योजना को अच्छे तरीके से लागू करना होगा और सही गेंद और कही गेंदबाजों को चुनना होगा।”