IPL 2020: It has taken me a little while to find a bit of rhythm, says Steve Smith
स्टीव स्मिथ (IANS)

लगातार दो जीत के साथ इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन की शुरुआत करने के बाद राजस्थान रॉयल्स के अभियान सफलता की राह से भटक गया। लेकिन अंकतालिका में सातवें नंबर पर मौजूदा टीम के प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना पूरी तरह खत्म नहीं हुई है।

हालांकि कप्तान स्टीव स्मिथ जानते हैं कि प्लेऑफ में पहुंचने का दावेदार बने रहने के लिए उनकी टीम बाकी सारे मैच बड़े अंतर से जीतने होंगे। जिसका मतलब है कि कप्तान समेत सभी खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा। स्मिथ ने अब तक टूर्नामेंट में केवल तीन अर्धशतकीय पारियां खेली हैं लेकिन वो भी लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं।

एएनआई से बातचीत में स्मिथ ने कहा, “मुझे लगता है कि मुझे लय में आने में थोड़ा समय लगा और आरसीबी के खिलाफ मैच में मैं क्रीज पर ज्यादा समय बिता सका, जहां मैंने लय हासिल करना और मैदान पर अच्छा महसूस करना शुरू किया। जाहिर है कि अगर ये सीजन की शुरुआत में होता तो अच्छा होता लेकिन पहले मैं ज्यादा जोर से मारने की कोशिश कर रहा था।”

उन्होंने कहा, “शारजाह में दो मैचों के बाद, जहां मैंने तेज खेलकर कुछ रन बनाए थे, शायद मैं थोड़ा पीछे हो गया और ज्यादा क्रिकेट शॉट्स खेलने की कोशिश की। मैंने लय हासिल की और उम्मीद है कि मैं आखिरी के कुछ मैचों में प्रभाव छोड़ सकूंगा।”

केवल टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज नहीं हैं मयंक अग्रवाल: जॉन्टी रोड्स

भले ही कप्तान स्मिथ अपने प्रदर्शन से पूरी तरह खुश नहीं हैं, लेकिन वो रियान पराग और राहुल तेवतिया की बल्लेबाज से काफी प्रभावित हुए हैं।

उन्होंने कहा, “हां, तेवतिया, पराग और कार्तिक त्यागी इस साल के तीन सकारात्मक पहलू हैं। उन्होंने कई अच्छे प्रदर्शन किए हैं और ये दुर्भाग्यपूर्ण है कि हमारे बड़े खिलाड़ी लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाएं हैं, जैसा कि हम चाहते है। हमारे लिए ये सीजन उतार-चढ़ाव से भरा रहा है।”

हालांकि युवा खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन सीनियर खिलाड़ी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। स्मिथ ने माना कि अनुभवी खिलाड़ियों की फॉर्म टीम के लिए चिंता का विषय बनी है।

मुंबई के खिलाफ पावरप्ले में ही मैच हमारे हाथ से फिसल गया था : फ्लेमिंग

उन्होंने कहा, “हां, आप चाहते हैं कि आपके अनुभवी खिलाड़ी निरंतर प्रदर्शन करें। जोफ्रा शानदार रहा है और बाकी लोग लगातार प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं और ये दुखद है। हालांकि कोशिश में कमी नहीं है चूंकि लड़के कड़ी मेहनत कर रहे हैं। इस तरह के मुश्किल विकेट पर खेलना आसान नहीं है लेकिन कोई बहाना नहीं चलेगा।”

कप्तान ने आगे कहा, “यहां-वहां कुछ अच्छे मूमेंट मिले हैं लेकिन हम ऐसे पल नहीं मिले जहां हमारे दो बड़े खिलाड़ियों ने एक मैच में अच्छा प्रदर्शन किया हो। वो मुश्किल रहा है और आपको अच्छी साझेदारियां चाहिए होती हैं।”