IPL 2020 News Today: आईपीएल में बीते दिनों मांकडिंग (Mankading) को लेकर रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) और स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को लेकर सामने आए विरोधाभास के बीच मंगलवार को ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान की तरफ से सफाई सामने आई है. पोंटिंग ने कहा कि उनकी और अश्विन की सोच मांकडिंग को लेकर एक जैसी है.

रिकी पोंटिंग दिल्‍ली कैपिटल्‍स की टीम के मुख्‍य कोच हैं जबकि अश्विन इस सीजन में दिल्‍ली फ्रेंचाइजी की तरफ से ही खेलते हुए नजर आएंगे. आईपीएल 2019 के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब का प्रतिनिधित्व करते हुए अश्विन ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में जोस बटलर को इस तरह से आउट किया था. तब उनके मौजूदा आईपीएल कोच ने इसका समर्थन नहीं किया था.

पोंटिंग ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से कहा, ‘‘ जब मैं यहां पहुंचा था तब इस बारे में पोडकास्ट पर हमारी अच्छी चर्चा हुई थी.  मुझे लगता है कि इस मामले पर अब हमारी सोच एक जैसी है. उन्हें लगता है कि उन्होंने खेल के नियमों के तहत सब कुछ किया और वह बिल्कुल सही हैं.’’

अश्विन की बातों में पोटिंग को तर्क भी मिला. ‘‘अश्विन ने मुझे कहा कि अगर मैं आईपीएल की आखिरी गेंद डाल रहा हूं जब विरोधी टीम को जीत के लिए दो रन की जरूरत है और दूसरी छोर का बल्लेबाज पहले ही दौड़ना शुरू कर दे तो क्या करना चाहिए? आप मुझ से क्या उम्मीद करेंगे.’’

इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘‘यहां भी एक तर्क है, लेकिन जैसा कि मैंने उससे कहा था, मैं उम्मीद करूंगा कि वह गेंदबाजी रोके और मांकेडिंग करने की जगह बल्लेबाज को अगली बार अपने क्रीज में बने रहने के लिए कहें.’’

पोंटिंग ने हालांकि यह स्पष्ट कर दिया कि खेल में ‘धोखा’ के लिए कोई जगह नहीं है, जो दूसरे छोर के बल्लेबाज के समय से पहले क्रीज के बाहर निकलने के बारे में है. पोंटिंग ने इस मामले में पेनल्टी की वकालत करते हुए कहा, ‘‘ ऐसे मामले में बात वहां तक नहीं पहुंचनी चाहिए, बल्लेबाज को एक-दो कदम आगे निकल कर धोखा नहीं देना चाहिए. इसका कुछ हल निकलना चाहिए.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे लगता है कि अगर वे जानबूझकर अपना क्रीज छोड़ रहे हैं तो आप बल्लेबाज पर किसी प्रकार के रन जुर्माना लगा सकते है.’’