दिल्‍ली कैपिटल्‍स के खिलाफ मैच के दौरान हैदराबाद की तरफ से जम्‍म एंड कश्‍मीर के अब्‍दुल समद ने अपना आईपीएल डेब्‍यू किया. वो इस टूर्नामेंट में खेलने वाले कश्‍मीर के तीसरे युवा खिलाड़ी हैं. समद ने इस मैच में सात गेंदों पर एक छक्‍के और एक चौके की मदद से 12 रन की नाबाद पार खेली. मैच के बाद समद ने कहा कश्‍मीर में लोगों को मुझसे काफी उम्‍मीदें हैं.

इंडिया टुडे से बातचीत के दौरान अब्‍दुल समद ने कहा, “आईपीएल में  पहला मुकाबला खेलकर काफी अच्‍छा महसूस कर रहा हूं. मैं आते ही लंबा छक्‍का जड़ा जिससे मेरे अंदर काफी उत्‍साह आया. कश्‍मीर मे स्थित मेरे घर पर लोगों को मुझसे काफी उम्‍मीदें हैं. वो उम्‍मीद कर रहे हैं कि भविष्‍य में होने वाले मुकाबलों में मैं अच्‍छा प्रदर्शन करूंगा.”

टीम मैनेजमेंट ने मुझे भेजने से पहले ही कह दिया था कि जाओ और अपना नेचुरल गेम खेलो. उन्‍होंने मुझे कहा था कि तुम पूरी तरह से फ्री हो. तुम जाओ और शॉट लगाओ. मैंने मैदान पर जाते ही शॉट लगाने का प्रयास किया. तीन-चार बार मैं मिस गर गया. लेकिन जैसे ही मैंने एनरिक नॉर्टजे की गेंद पर छक्‍का लगाया, इससे मुझे काफी आत्‍मविश्‍वास मिला.

अब्‍दुल समद ने कहा, “मैं उम्‍मीद करता हूं कि आने वाले समय में मैं ऐसे ही छक्‍के और चौके लगा पाउंगा. आईपीएल का पहला मुकाबला खेलने का मुझपर ज्‍यादा दबाव नहीं आया. घरेलू क्रिकेट और आईपीएल के मैच में ज्‍यादा अंतर नहीं है क्‍योंकि अधिकांश वहीं खिलाड़ी आईपीएल में खेल रहे हैं जो घरेलू क्रिकेट में भी खेलते हैं.

आईपीएल का दबाव और इसकी तीव्रता एक घरेलू मुकाबले से ज्‍यादा होती है. हमारे पास मैच के दौरान मैदान पर फैन्‍स नहीं थे, लेकिन इसके बावजूद भी मुझे इसका ज्‍यादा दबाव महसू नहीं हुआ.