इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के 13वें सीजन में हिस्सा ले रहे युवा खिलाड़ियों को कोविड-19 के कारण मिले लंबे ब्रेक के बाद लय में लौटने में मुश्किल होगी और कोचिंग स्टाफ को उनके साथ काम करना होगा, ऐसा कहना है रॉयल्स चैलेंजर्स बेंगलोर के मुख्य कोच साइमन कैटिज का।

कैटिज ने बुधवार को वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, “खिलाड़ियों ने अतीत में जो किया आप उसे पीछे छोड़ सकते हैं और जिन लोगों के पास अनुभव है वो लय में वापस आ जाएंगे।”

कोविड-19 के कारण इस बार आईपीएल-13 का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में किया जा रहा है। आईपीएल 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच यूएई के तीन शहरों दुबई, अबुधाबी और शरजाह में खेला जाएगा।

उन्होंने कहा, “इस बात को ध्यान रखते हुए कि युवा खिलाड़ी अभी भी सीख रहे हैं उनको संभालना काफी चुनौतीपूर्ण होगा। मुझे लगता है कि हमारे पास कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिनका घरेलू सीजन और अंतर्राष्ट्रीय सीजन शानदार रहा है लेकिन उन्हें छह महीनों का ब्रेक मिला है। इसलिए जब वो ट्रेनिंग करने आएंगे तो वो पुराने अनुभव से सीख सकते हैं और आत्मविश्वास हासिल कर इस सीजन में आ सकते हैं। यह ऐसी चीज है जिस पर हम प्रशिक्षकों को भी ध्यान देना होगा।”

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी ने कहा कि खिलाड़ी अच्छा करने के लिए काफी उत्साहित होंगे। उन्होंने कहा, “ये एक अलग स्थिति है जहां वो अंतरराष्ट्रीय स्तर से वापस नहीं आ रहे हैं, जो आम तौर पर आईपीएल से पहले होता है। मुझे लगता है कि खिलाड़ी इस समय अच्छा करने के लिए प्रेरित होंगे, क्योंकि वो लंबे ब्रेक के बाद वापसी कर रहे होंगे। इस नजरिए से ये एक सकारात्मक पहलू है। सबसे बड़ी बात ये है कि खिलाड़ी मानसिक तौर पर किस तरह से सामंजस्य बैठाते हैं।”