इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) के 13वें सीजन के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) को 2021 के सीजन में अच्छी शुरुआत की जरूरत थी लेकिन महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की टीम को दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के खिलाफ अपने पहले मैच में 7 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा।

14वें सीजन में न्यूट्रल वेन्यू पर खेल रही टीमों के सामने कई तरह की नई चुनौतियां है। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में पहला मैच खेलने के बाद सीएसके कप्तान धोनी का भी यही मानना है। धोनी का कहना है कि इस मैदान पर गिरने वाली ओस को देखते हुए जीत के लिए हर मैच में 200 रन का स्कोर बनाना जरूरी होगी। बता दें कि सीएसके को अपने 14 में 7 लीग मैच मुंबई में खेलने हैं।

दिल्ली के खिलाफ मैच के बाद धोनी ने कहा, “ओस पर काफी कुछ निर्भर करता था और मैच की शुरुआत से ही ये चीज हमारे दिमाग में थी और उसी वजह से हम ज्यादा से ज्यादा रन बनाना चाहते थे। बल्लेबाजों ने 188 रन तक पहुंचकर अच्छा काम किया क्योंकि अगले 50 मिनट में ओस गिरने से पहले पिच धीमी थी।”

कप्तान ने कहा, “जब पिच काफी धीमी होती है और गेंद रुककर आती ही तो 7:30 बजे शुरू होने वाले मैच में विपक्षी टीम के पास आधे घंटे का अतिरिक्त समय होता है। इसलिए हमें 15-20 रन अतिरिक्त चाहिए होंगे। अगर हमें आगामी मैचों में इसी तरह की ओस मिलती रही तो फिर हमें इस पिच पर 200 रन बनाने ही होंगे।”

हालांकि धोनी ने ये भी माना कि उनके गेंदबाज और बेहतर प्रदर्शन कर सकते थे। उन्होंने कहा, “हम थोड़ी बेहतर गेंदबाजी कर सकते थे और उन्होंने बाउंड्री वाली कई गेंदे कराई लेकिन गेंदबाज इससे सीख लरेंगे और उसे आगामी मैचों में इस्तेमाल करेंगे।”