ipl 2021 fear of failure has often pushed me to focus more says ab villiers
एबी डिविलियर्स @RCBTweetsTwitter

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम में खेल रहे करिश्माई बल्लेबाज एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) ने कहा कि उनकी बैटिंग भले देखने में आकर्षक लगती है. लेकिन व्यक्तिगत तौर पर यह हमेशा ही लुत्फ उठाने वाली नहीं होती. उन्हें भी ‘फेल होने का डर’ सताता है और यही डर है, जो उनकी बेखौफ बैटिंग के लिए उन्हें और अधिक एकाग्र होने के लिए प्रेरित करता है.

लगभग पांच महीने में अपना पहला प्रतिस्पर्धी मैच खेल रहे डिविलियर्स ने इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के पहले मैच में गत चैंपियन मुंबई इंडियन्स (MI) के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (RCB) की जीत में अहम भूमिका निभाई.

यह पूछने पर कि साल दर साल वह ऐसा कर लेते हैं. डिविलियर्स ने कहा, ‘यह हमेशा काफी लुत्फ उठाने वाला नहीं होता. मैं स्थिति के अनुसार सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का प्रयास करता हूं. यह सामान्य सी चीज लगती है. लेकिन सच यह है कि जब आप मिडल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते हो तो हर बार स्थिति बदलती है.’

साउथ अफ्रीका के इस दिग्गज बल्लेबाज ने आरसीबी ‘बोल्ड डायरीज’ से कहा, ‘यह सामंजस्य बैठाने और इसका पूरा फायदा उठाने से जुड़ा है. यह अधिकतर काम करता है. लेकिन इस हकीकत से इनकार नहीं किया जा सकता कि विफलता भी मिलती है.’

उन्होंने कहा, ‘लेकिन आपको हमेशा पता होता है कि यह संभव है कि आप फेल हो जाओ. विफलता का डर मुझे हमेशा गेंद पर अधिक ध्यान केंद्रित करने और बेसिक्स बेहतर करने के लिए प्रेरित करता है. अच्छी शुरुआत करने का प्रयास करता. पहली 20 गेंद में अच्छी शुरुआत करना अहम है.’

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके 37 साल के डिविलियर्स ने स्वीकार किया कि जब आप लंबे समय के बाद शीर्ष स्तर का क्रिकेट खेलते हो तो लय में वापस आने में समय लगता है. डिविलियर्स को भरोसा है कि आरसीबी की टीम बुधवार को यहां आईपीएल मैच के दौरान सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) की कमजोरियों का फायदा उठाने में सफल रहेगी.