इंडियन प्रीमियर लीग 2021 फाइनल जीतने के बाद चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने पिछले साल प्लेऑफ में जगह बनाने से चूकने के बाद उनके लिए अच्छी वापसी करना महत्वपूर्ण था और उन्हें खुशी है कि उनकी टीम इसमें सफल रही और चैंपियन बनी।

चेन्नई फाइनल में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) को 27 रन से हराकर चौथी बार इंडियन प्रीमियर लीग का खिताब जीता।

पहले बल्लेबाजी करते हुए फाफ डुप्लेसिस के 86 और शीर्ष क्रम के अन्य बल्लेबाजों के उपयोगी योगदान से तीन विकेट पर 192 रन बनाए। इसके जवाब में केकेआर को शुभमन गिल (51) और वेंकटेश अय्यर (50) ने पहले विकेट के लिए 91 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दिलाई लेकिन उसकी टीम आखिर में नौ विकेट पर 165 रन ही बना पाई।

धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘‘जहां तक चेन्नई की बात है तो आंकड़ों में हम लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम हैं लेकिन हम फाइनल में हारते रहे। विरोधी टीम को हावी नहीं होने देने वाले पहलू पर हम सुधार करना चाहते थे। हमने ऐसा किया। हमारे लिए अच्छी वापसी करना महत्वपूर्ण था।’’

कप्तान ने कहा, “मुझे लगता है कि ब्रेक ने उनकी मदद की। सीएसके में आकर कुछ खिलाड़ियों को फेरबदल किया, हमने उन्हें अलग-अलग तरीकों से इस्तेमाल किया। जिम्मेदारी लेना महत्वपूर्ण था। मुझे लगा कि हमारे पास खेल के बाद मैचविनर खिलाड़ी है। जो लोग फॉर्म में थे उन्होंने सुनिश्चित किया कि वो पूरे टूर्नामेंट में स्कोर कर रहे थे और बाकी लोग इसमें शामिल हो रहे थे।”

धोनी ने कहा, “मुझे उम्मीद है कि आने वाले सालों में सीएसके को इसके लिए जाना जाएगा। हम वास्तव में बहुत ज्यादा बात नहीं करते हैं, एक-एक खिलाड़ी को समय दिया जाता है। हमारे अभ्यास सेशन भी एक मीटिंग की तरह हैं। लोग इस तरह अधिक खुलकर बोलतेहैं। जब आप टीम रूम में बात करते हैं तो थोड़ा दबाव होता है। आप एक अच्छी टीम के बिना अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकते।”

पूर्व क्रिकेटर ने आगे कहा, “मैं प्रशंसकों को धन्यवाद देना पसंद करूंगा। हम अभी दुबई में हैं। यहां तक कि जब हम दक्षिण अफ्रीका में खेले तो हमें हमेशा अच्छा समर्थन मिला। उन सभी को धन्यवाद। अगर चेपॉक, चेन्नई जैसा लगता है। उम्मीद है कि हम अगले साल चेन्नई के प्रशंसकों के लिए खेलने के लिए वापस आएंगे।”