IPL 2021, Punjab Kings vs Sunrisers Hyderabad, 14th Match: Sunrisers Hyderabad won by 9 wickets
जॉनी बेयरस्टो और केन विलियम्सन. (PC- IPL)

खलील अहमद और अभिषेक शर्मा की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद ‘मैन ऑफ द मैच’ जॉनी बेयरस्टॉ की नाबाद 63 रन की पारी के बूते सनराइजर्स हैदराबाद ने इंडियन प्रीमियर लीग टी20 टूर्नामेंट में बुधवार को पंजाब किंग्स को नौ विकेट से हराकर सत्र की पहली जीत दर्ज की. सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस गंवाने के बाद गेंदबाजी करते हुए चेपॉक मैदान की खुरदुरी पिच पर पंजाब किंग्स की पारी को 19.4 ओवर में 120 रन पर समेट दिया. टीम ने 18.4 आवेर में एक विकेट के नुकसान पर 121 रन बनाकर चार मैचों में पहली बार सफलता का स्वाद चखा.

तेज गेंदबाज खलील ने धीमी गेंदों के शानदार मिश्रण से चार ओवर में 21 रन देकर तीन विकेट चटकाये. अभिषेक (चार ओवर में 24 रन पर दो विकेट) और राशिद खान (चार ओवर में 17 रन पर एक विकेट) की फिरकी गेंदबाजी का पंजाब के बल्लेबाजों के पास कोई जवाब नहीं था. भुवनेश्वर कुमार और सिद्धार्थ कौल को भी एक-एक सफलता मिली. लक्ष्य का पीछा करते हुए बेयरस्टॉ और कप्तान डेविड वार्नर (37) ने हैदराबाद को शानदार शुरूआत दिलायी जिससे बल्लेबाजी के लिए मुश्किल परिस्थितियों में भी टीम को लक्ष्य का पीछा करने में ज्यादा परेशानी नहीं हुई. सत्र का पहला मैच खेल रहे केन विलियमसन 16 रन पर नाबाद रहे. पंजाब को एकमात्र सफलता फैबियन एलन (चार ओवर में 22 रन पर एक विकेट) ने दिलायी.

सनराइजर्स ने छोटे लक्ष्य का पीछा आक्रामक तरीके से किया. वॉर्नर ने पहले ओवर में मोहम्मद शमी के खिलाफ चौका जबकि जानी बेयरस्टॉ ने दूसरे ओवर में फैबियन एलन के खिलाफ चौका और फिर छक्का जड़ा. हैदराबाद की टीम ने पावरप्ले में बिना किसी नुकसान के 50 रन बना लिये. पावरप्ले के बाद हालांकि पंजाब के गेंदबाज बाउंड्री पर अंकुश लगाने में सफल रहे. वार्नर ने 10वें ओवर में दीपक हुड्डा की गेंद पर अपना पहला छक्का जड़ा लेकिन अगले ही ओवर में एलन की गेंद पर मनीष पांडे को कैच थमा बैठे. उन्होंने 37 गेंद की 37 रन की पारी खेलने के साथ पहले विकेट के लिए बेयरस्टॉ के साथ 73 रन की साझेदारी की. एलन का यह ओवर मेडन रहा.

हैदराबाद ने 16वें ओवर की आखिरी गेंद पर विलियमसन के एक रन के साथ रनों का सैकड़ा पूरा किया. बेयरस्टॉ ने 18वें ओवर की पहली गेंद पर चौका जड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया. हैदराबाद के लिए 45 गेंद के बाद यह बाउंड्री आयी थी. उन्होंने अगले ओवर में अर्शदीप के खिलाफ अपना दूसरा छक्का जड़कर गेंद और जरूरी रनों के अंतर को कम करने के साथ टीम की जीत सुनिश्चित कर दी.

इससे पहले दोनो टीमों ने मैच के लिए तीन-तीन बदलाव किये थे. पंजाब की टीम ने एलन, मोइजेस हेनरिक्स और मुरुगन अश्विन को अपने अंतिम 11 में शामिल किया था. हैदराबाद की टीम में विलियम्सन की वापसी हुई जबकि केदार जाधव और सिद्धार्थ कौल को भी मौका मिला है. पंजाब की पारी की शुरूआत में मयंक अग्रवाल को पहले ओवर में ही राशिद ने कैच टपका कर जीवनदान दिया लेकिन सातवें ओवर में खलील की गेंद पर उन्होंने शानदार कैच लपक कर 22 रन की उनकी पारी को खत्म किया. इससे पहले भुवनेश्वर ने तीसरे ओवर में केदार जाधव के हाथों कैच कर करा लोकेश राहुल (04) को पवेलियन भेज दिया था. निकोल्स पूरन को स्ट्राइक मिलने से पहले ही डेविड ने विकेट पर सीधा थ्रो मार कर पवेलियन भेज दिया.

नौवें ओवर में गेंदबाजी के लिए आये राशिद खान ने क्रिस गेल को पगबाधा कर 17 गेंद में 15 रन की उनकी पारी को खत्म किया. पंजाब की टीम शुरुआती 10 ओवरों में चार विकेट पर 53 रन ही बना सकी थी जिस दौरान सिर्फ पांच चौके ही लगे थे. दीपक हुड्डा (13) ने राशिद के खिलाफ रिवर्स स्वीप पर चौका लगाया लेकिन 12वें ओवर में अभिषेक की गेंद पर पगबाधा हो गये. उन्होंने मैदानी अंपायर के फैसले के खिलाफ डीआरएस का सहारा लिया लेकिन अंपायर्स कॉल के कारण उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा.

शाररूख खान (22) ने दो आकर्षक छक्के लगाये लेकिन 19वें ओवर में उनके आउट होने से टीम बड़ा स्कोर खड़ा करने में नामक रही. इस बीच हरफनमौला हेनरिक्स (14) और एलन (06) भी बल्ले से प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे. आखिरी ओवर में विजय शंकर ने मोहम्मद शमी को रन आउट कर पंजाब की पारी को 120 रन पर समेट दिया. मौजूदा सत्र में इस मैदान का यह सबसे छोटा स्कोर था. (भाषा)