आईपीएल (IPL 2021) शुरू होने से पहले ही दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) के रेगुलर कप्‍तान श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer)  कंधे की चोट के चलते पूरे सीजन से बाहर हो गए हैं. फ्रेंचाइजी ने उनके स्‍थान पर युवा रिषभ पंत (Rishabh Pant) को दिल्‍ली का कप्‍तान बनाया है. ऐसे में ये सवाल उठना लाजमी है कि आखिर श्रेयस अय्यर को इस साल आईपीएल की सैलरी मिलेगी या नहीं. आइये हम आपको इस सवाल का जवाब देते हैं.

दिल्‍ली कैपिटल्‍स (Delhi Capitals) ने श्रेयस अय्यर को सात करोड़ रुपये की राशि खर्च कर फ्रेंचाइजी के साथ जोड़ा था. आईपीएल की प्‍लेयर इंश्‍योरेंस पॉलिसी के अंतर्गत श्रेयस अय्यर आते हैं. ऐसे में उन्‍हें इस सीजन में नहीं खेलने के बावजूद भी उनकी अनुबंध की पूरी रकम दी जाएगी.

क्‍या है प्‍लेयर इंश्‍योरेंस पॉलिसी ?

बीसीसीआई के नियमों (IPL Player Insurance Policy) के मुताबिक वो खिलाड़ी जो भारतीय टीम में खेलने के कारण केंद्रीय अनुबंध के अंदर आता है वो प्‍लेयर इंश्‍योरेंस पॉलिसी का फायदा उठा सकता है. इस योजना को साल 2011 में लागू किया गया था. इसके तहत खेल के दौरान चोटिल हुए भारतीय खिलाड़ी मुआवजा पा सकते हैं.

वनडे सीरीज में चोटिल हुए थे अय्यर

श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) इंग्‍लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान पहले ही मुकाबले में फील्डिंग करते हुए चोटिल हो गए थे. उनका कंधा उतर गया है, जिसकी सर्जरी अप्रैल के पहले सप्‍ताह में होनी है. लिहाजा उनका इस सीजन में अब खेल पाना संभव नहीं है.

किस आधार पर दिया जाता है मुआवजा ?

प्‍लेयर इंश्‍योरेंस पॉलिसी (IPL Player Insurance Policy)के तहत चोट के कारण कोई भारतीय खिलाड़ी जितने मैच नहीं खेल पाता है उसे टीम के कुल मुकाबलों के आधार पर उन मैचों का पूरा पैसा दिया जाता है. श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) की बात की जाए तो वो पूरे सीजन से बाहर हैं. ऐसे में उन्‍हें इंश्‍योरेंस के तहत पूरे सात करोड़ की राशि मिलेगी.