भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने हाल ही में टी20 फॉर्मेट से अपनी कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया है. विराट कोहली इस फॉर्मेट में आखिरी बार आईपीएल (IPL 2021) और भारतीय टीम की कप्तानी कर रहे हैं. लेकिन पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज अजीत अगरकर (Ajit Agarkar) का मानना है कि विराट भले कप्तान हों या न हों लेकिन उनके आक्रामक तेवर और जुनून में कमी नहीं आएगी. वह कप्तानी छोड़ने के बाद भी पहले की ही तरह पूरी ऊर्जा के साथ मैदान में दिखेंगे.

विराट कोहली ने हाल ही में बारी-बारी यह घोषणा की थी कि वह टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) के बाद टीम इंडिया और आईपीएल के मौजूदा सीजन के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की कप्तानी छोड़ देंगे. अगरकर ने कहा, ‘मुझे लगता है कि हमने उनके पूरे करियर में एक चीज देखी है, यहां तक कि जब वह कप्तान नहीं थे और जब महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) के नेतृत्व में खेलते थे, तब भी ऊर्जा और जुनून वैसा ही लगता था. मैं इसे बदलने की कल्पना नहीं कर सकता.’

भारत के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल (Parthiv Patel) ने कहा कि बायो-बबल में लंबे समय तक रहने के साथ-साथ कार्यभार को देखते हुए आरसीबी की कप्तानी छोड़ने के बाद कोहली राहत महसूस करेंगे.

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि वह खुश से ज्यादा भावुक दिख रहे थे. मुझे लगता है कि जब आप इतने सालों तक एक फ्रैंचाइजी के लिए खेल रहे होते हैं तो आपको वो भावनात्मक जुड़ाव मिलता है, जो आरसीबी में था. मुझे लगता है कि आरसीबी ने वास्तव में 2008 में कोहली की प्रतिभा को पहचाना और फिर उन पर बहुत भरोसा दिखाया क्योंकि अगर आप उनकी और आरसीबी की यात्रा को देखें, तो यह एक रोलरकोस्टर रहा है.’