इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) का 14वां सीजन स्थगित होने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और आईपीएल गवर्निंग काउंसिल (IPL GC) की अगली चिंता इस लीग में हिस्सा लेने आए विदेशी खिलाड़ियों को सुरक्षित उनके घर भेजने की है. इस पर आईपीएल के चेयरमैन बृजेश पटेल (Brijesh Patel) ने कहा सभी खिलाड़ियों को वापस उनके घर भेजना का तरीका ढूंढ लेगा.

इस समय भारत घातक महामारी कोविड- 19 की दूसरी लहर का सामना कर रहा है. इसी दौरान देश में बायो सिक्योर बबल में खेली जा रही टी20 लीग में इस वायरस की एंट्री हो गई. जब दो दिन के भीतर लीग की अलग-अलग टीमों में कुछ मामले सामने आए तो इस लीग अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करना पड़ा. मंगलवार को सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) और दिल्ली कैपिटल्स के अनुभवी लेग स्पिनर अमित मिश्रा (Amit Mishra) के कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद लीग को निलंबित करने की घोषणा की गई.

विदेशी खिलाड़ी कैसे वापस जाएंगे इस बारे में पूछे जाने पर बृजेश पटेल ने पीटीआई से कहा, ‘हमें उन्हें स्वदेश भेजने की जरूरत है और हम ऐसा करने का तरीका ढूंढ लेंगे.’

इस लुभावनी लीग से जुड़े विदेशी खिलाड़ी अपने देशों में लौटने को लेकर चिंतित हैं क्योकि भारत में घातक महामारी फैलने के कारण कई देशों ने यात्रा पाबंदियां लगाई हैं. बीसीसीआई इससे पहले भी विदेशी खिलाड़ियों की सुरक्षित वापसी का आश्वासन दे चुका है.

कुछ दिन पहले ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने कहा था कि उनके देश के क्रिकेटरों को उस चार्टर्ड विमान में यात्रा करने में कोई परेशानी नहीं है जो भारत, न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के खिलाड़ियों को आईपीएल के बाद ब्रिटेन ले जाएगा.

भारत और न्यूजीलैंड को 18 जून से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलना है और उन्हें आईपीएल खत्म होने के बाद इंग्लैंड रवाना होना था. सोमवार को चेन्नई सुपरकिंग्स के गेंदबाजी कोच एल बालाजी के अलावा कोलकाता नाइट राइडर्स के गेंदबाज संदीप वॉरियर और वरुण चक्रवर्ती भी पॉजिटिव पाए गए थे.