आईपीएल (IPL 2022) में टीम के असफल अभियान के बाद चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के कई खिलाड़ियों ने स्वीकार किया है कि वोअपनी उम्मीदों के मुताबिक नहीं खेले, जिसने आखिरकार चार बार के आईपीएल चैंपियन को इस सीजन में प्लेऑफ से बाहर कर दिया.

महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की अगुवाई वाली गत चैंपियन ने अपने 14 लीग मैचों में से केवल चार मैचों में जीत हासिल की, जो केवल पांच बार के आईपीएल विजेता मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) से ऊपर रही.

सीएसके के सलामी बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ (Ruturaj Gaikwad) ने कहा कि, “कई लोग कह रहे होंगे कि सीएसके का इस बार किस्मत ने साथ नहीं दिया. लेकिन मैं इमानदारी से बताऊं तो हम प्रशंसकों की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाए.”

गायकवाड़ 2021 आईपीएल सीजन में सबसे अधिक रन (635) बनाने वाले खिलाड़ी थे, जिनके पास ऑरेंज कैप थी. इस सीजन में सीएसके के खराब प्रदर्शन का एक मुख्य कारण गायकवाड़ का उदासीन रूप था, लेकिन महाराष्ट्र के क्रिकेटर ने कहा कि टीम अगले सीजन में मजबूती के साथ वापसी करेगी.

न्यूजीलैंड के डेवोन कॉनवे ने सीएसके टीवी के हवाले से बताया कि, “हम सभी जानते हैं कि इस साल टीम का किस्मत ने साथ नहीं दिया. लेकिन अगले साल हम मजबूती के साथ वापसी करेंगे.”

सीमरजीत सिंह ने कहा, “जब आप हार जाते हैं तो खिलाड़ियों की काफी आलोचना की जाती है. लेकिन आलोचना करने से कोई फायदा नहीं होता क्योंकि सभी खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहते हैं, लेकिन परिस्थितियों के चलते हम उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाते.”

श्रीलंका के तेज गेंदबाज महेश थीक्षाना ने महसूस किया कि असफल सीजन के बावजूद, यह महत्वपूर्ण था कि खिलाड़ी अगले आईपीएल सीजन से पहले अपनी क्षमता पर भरोसा न खोएं.

कुछ अच्छी पारियां खेलने वाले बल्लेबाज शिवम दुबे ने कहा, “भले ही हम सीजन में हारे हो, लेकिन अगला सीजन हमारा ही होगा.”