आईपीएल में मंगलवार शाम को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) की टीम राजस्थान रॉयल्स (RR) से भिड़ेगी. अभी तक टीम का प्रदर्शन ठीकठाक ही रहा है. उसने 8 मैच खेलकर 5 में जीत, जबकि तीन में हार का सामना किया है. लेकिन अपने पिछले मैच में वह सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) के खिलाफ 9 विकेटों से करारी हार का सामना करना पड़ा. टीम अपनी लचर बल्लेबाजी के चलते सिर्फ 8 ओवर में ही मैच हार गई. इसके बाद टीम के प्लेइंग XI में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं. सबसे खराब फॉर्म में उसके स्टार बल्लेबाज और पूर्व कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ही हैं, जो अब तक 8 पारियों में सिर्फ 119 रन बना पाए हैं.

आउट ऑफ फॉर्म विराट कोहली और अनुज रावत (Anuj Rawat) की जगह शामिल है. आरसीबी के पूर्व कप्तान कोहली और रावत दोनों ही एसआरएच के खिलाफ शून्य पर आउट हो गए थे, जिससे आलोचकों ने कहा कि दोनों को एक ब्रेक की जरूरत है. हालांकि, डु प्लेसिस ने आरसीबी बोल्ड डायरीज में महत्वपूर्ण प्रश्नों पर प्रकाश डाला और आरसीबी कैंप में मूड के बारे में बात की.

साउथ अफ्रीकी के पूर्व कप्तान ने कहा, ‘हर खिलाड़ी वास्तव में प्रदर्शन करने के लिए उत्साहित है. यही वह चीज है, जिसे मैं वास्तव में एक टीम के भीतर महसूस करता हूं. हर एक खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए बेताब है. प्रयास और रवैया उन चीजों में से एक है जिसे हम नियंत्रित कर सकते हैं और अगर हम ऐसा करते हैं, तो उम्मीद है कि परिणाम हमारे पक्ष में होगा.’

इस तरह की निराशाजनक हार के बाद उनकी टीम कैसे वापसी की उम्मीद करती है. इस पर डु प्लेसिस ने कहा, ‘मेरे लिए बस यह एक हार है, चाहे आप एक रन से हारें या 500 रनों से, आप अभी भी अच्छा करने की कोशिश करते हैं और जीत के उस स्तर तक पहुंचते हैं, जहां आपको नॉकआउट चरण में पहुंचने की आवश्यकता होती है.’ उन्होंने कहा कि हार से उबरने के लिए कुछ अगल रास्ते खोजने की जरूरत है.

डु प्लेसिस ने कहा, ‘मेरे लिए महत्वपूर्ण बात यह है कि आप आगे देखते हैं. मैं भाग्यशाली रहा हूं कि हमारे ड्रेसिंग रूम में बहुत सारे खिलाड़ी हैं, जो खेल के उतार-चढ़ाव को समझते हैं. पिछले साल भी, मुझे याद है कि मैं उसी अनुभव से गुजर रहा था. वह अलग टीम थी लेकिन, मुझे लगता है कि हम 60 या 70 रन पर ऑल आउट होने के बावजूद प्रतियोगिता जीत ली थी.’