इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) में लगातार तीसरी हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने टीम के साथी खिलाड़ियों से कहा कि वो आगामी मैचों में लक्ष्य तक पहुंचने के लिए ‘जीत की बेताबी और भूख’ दिखाएं. पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की सीजन की शुरूआत काफी खराब रही, उसने पहले तीन मैच दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals), राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) और कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) से गंवा दिए.

रोहित ने केकेआर के खिलाफ मैच के बाद ड्रेसिंग रूम में स्पीच में कहा, ‘‘हम यहां किसी एक खिलाड़ी को दोषी नहीं ठहरा सकते. इसमें हम सभी शामिल हैं. हम सभी एक साथ जीतते हैं और एक साथ ही हारते हैं. मुझे ये इतना ही आसान लगता है. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि प्रत्येक को जीत की थोड़ी बेताबी दिखाने की जरूरत है. जब हम खेलते हैं, खासकर इस टूर्नामेंट में तो ये जीत की बेताबी बहुत बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है. क्योंकि प्रतिद्वंद्वी टीम अलग अलग होती है, तो वे हर समय अलग अलग योजना के साथ आती हैं. हमें हमेशा उनसे आगे होने की जरूरत होती है. हमें हमेशा उन पर हावी रहने की जरूरत होती है. और हम सिर्फ एक ही तरह से ऐसा कर सकते हैं और वो है थोड़ी सी भूख और मैदान पर थोड़ी सी बेताबी – बल्ले से और गेंद से. ’’

रोहित ने साथ ही कहा कि अभी घबराने की कोई जरूरत नहीं है और टीम के साथ खिलाड़ियों से कहा कि वे महत्वपूर्ण क्षणों में एक इकाई के तौर पर खेलें क्योंकि अंत में इनसे ही अंतर पैदा होता है.

उन्होंने कहा, ‘‘हम कुछ अच्छी चीजें कर रहे हैं. हमने जो भी तीनों मैच खेले हैं, उसमें सचमुच कुछ अच्छी चीजें की हैं. यह सिर्फ इतना ही है कि जब मैच हो रहा है तो उन कुछ क्षणों में एक खिलाड़ी को चीजों को समझना होगा. मैच के दौरान सोचना होगा कि यही ओवर है. हम इस ओवर में क्या करें, यही छोटी छोटी चीजें. हम इनकी कोशिश करनी होगी और चीजें टीम की ओर करनी होंगी. लय अपनी टीम की ओर करनी होगी.’’

रोहित ने कहा, ‘‘हमें घबराने की जरूरत नहीं है. हम इस कमरे में प्रतिभा, काबिलियत और सभी चीजों के बारे में बात करते हैं लेकिन जब तक हम मैदान पर वो जीत की भूख और जज्बा नहीं दिखाते, प्रतिद्वंद्वी टीमों के खिलाफ जीत दर्ज नहीं कर सकते. अभी शुरूआत है तो हताश होने की जरूरत नहीं है. बस हमें सभी 11 खिलाड़ियों को एक साथ मैदान में अच्छा करने की जरूरत है. बस. ’’