IPL and spirit are sort of a born mismatch, says Bishen singh Bedi
बिशन सिंह बेदी © Getty Images

इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन में अब तक का सबसे बड़ा विवाद है रविचंद्रन अश्विन का जोस बटलर को मांकड़िंग आउट करना। जहां एक तरफ कई पूर्व खिलाड़ियों का ये कहना है कि अश्विन ने जो भी किया वो क्रिकेट के नियमों के तहत सही है, तो दूसरी ओर लोग इसे खेलभावना के विपरीत बता रहे हैं। वहीं पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी का कहना है कि आईपीएल और खेलभावना का कोई मेल ही नहीं है।

ये भी पढ़ें:  विवादों से घिरी मुंबई-पंजाब के मैच में अहम साबित होंगे ये खिलाड़ी

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में बेदी ने कहा, “खेलभावना निजी होती है। आप अपने खेल जरिए किस तरह से खुद को याद करवाना और सम्मान पाना चाहते हैं, वो खेलभावना है। ना कि कोई लिखा हुआ नियम। आईपीएल और खेल भावना? एक तरह की बेमेल शादी?, मैं इस बात से पूरी तरह सहमत हूं।”

ये भी पढ़ें: गौतम गंभीर चाहते हैं विश्व कप में भारत के नंबर 4 बल्लेबाज बनें संजू सैमसन

किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच 25 मार्च को खेले गए मैच के दौरान अश्विन के बटलर को मांकड़िंग कर आउट करने के बाद शुरू हुए विवाद में फील्ड अंपायर सुंदरम रवि भी फंस गए थे। फैंस का कहना था कि अश्विन ने अगर बटलर को आउट करने की अपील की भी थी तो अंपायरों को इसे डेड बॉल करार करना चाहिए था। हालांकि बोर्ड ने साफ कर दिया है कि अंपायर एस रवि पर कोई प्रतिबंध नहीं लगेगा