IPL will be inspiration for all leagues around the world, says Big Bash League chief
IPL 2018 FINAL © IANS

ऑस्ट्रेलिया की मशहूर बिग बैश लीग की प्रमुख किम मैकोनी ने आईपीएल को दुनिया भर की टी20 क्रिकेट लीग के लिए प्रेरणास्रोत बताया है। मैकोनी ने कहा कि भविष्य में भी इंडियन प्रीमियर लीग उनके लिए आगे की राह तय करता रहेगा।

किम ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर भाषा को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘‘आईपीएल को सलाम। ये दुनिया की सर्वश्रेष्ठ घरेलू लीग है। हमारे लिए बिग बैश लीग ऐसा मंच है जिसमें अपनी प्रतिभा दिखाकर दुनिया भर के क्रिकेटर आईपीएल में जगह पा सकते हैं। कामयाबी की ऐसी कई दास्तान हमने देखी है और हमें इस पर गर्व है।’’

महिला बिग बैश लीग को बढावा देने के लिए पिछले साल बीबीएल की प्रमुख बनाई गई किम ने कहा, ‘‘आईपीएल ने दुनिया भर की दूसरी लीग्स को रास्ता दिखाया है। हमारे कई खिलाड़ी आईपीएल की कई बेहतरीन कहानियां बताते हैं। हमने भी खेल और मनोरंजन को जोड़ने का फार्मूला आईपीएल से सीखा है और अब बीबीएल ऑस्ट्रेलिया में पारिवारिक मनोरंजन का दूसरा नाम बन गया है।’’

बीबीएल को फिक्सिंग से दूर पाक साफ रखने का श्रेय क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को देते हुए उन्होंने कहा, ‘‘क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की इंटीग्रिटी टीम काफी अच्छा काम कर रही है। हमारा रिकार्ड पाक साफ रहा है क्योंकि हमारे खिलाड़ी और कोच इसे काफी संजीदगी से लेते हैं और लेते रहेंगे।’’

इस साल दिसंबर में बीबूएल का आठवां और महिला बीबीएल का चौथा सीजन खेला जाएगा। इस पर उन्होंने कहा, ‘‘बीबीएल ने तेजी से सफलता की सीढियां चढी है और अब एमसीजी जैसे बड़े स्टेडियम पर साठ से सत्तर हजार लोग बीबीएल मैच देखने जुटते हैं। रिकी पोंटिंग जैसे क्रिकेटर इसके बारे में बात कर रहे हैं जो इसकी लोकप्रियता दर्शाता है। हमारी महिला लीग दुनिया की सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेट लीग है। हमें गर्व है कि इसमें कुछ भारतीय खिलाड़ी भी खेल रहे हैं। मुझे यकीन है कि ये दुनिया की दूसरी महिला क्रिकेट लीगों के लिए भी मार्ग प्रशस्त करेगी।’’

दूसरे खेलों और फॉर्मेट्स से प्रतिस्पर्धा के बीच बीबीएल और आईपीएल जैसी लीग को क्रिकेट के लिए जरूरी बताते हुए उन्होंने कहा, ‘‘बीबीएल और आईपीएल क्रिकेट के लिए बहुत जरूरी है। हमारा लक्ष्य अगली पीढी के क्रिकेटरों को बल्ला उठाने के लिए प्रेरित करना है। ऑस्ट्रेलिया के हर बच्चे को क्रिकेट का ककहरा सिखाना ही हमारा उद्देश्य है।’’

(पीटीआई भाषा)