IPL will benefit from having more franchisees: Rajasthan Royals owner Manoj Badale
स्टीव स्मिथ (IANS)

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में नई टीमों को लाने पर लंबे समय से चर्चा चल रही है। कोशिश है कि 2021 सीजन में आईपीएल में टीमों की संख्या बढ़ाई जाय। राजस्थान रॉयल्स के मालिक मनोज बडाले को भी लगता है कि नई टीमों के आने से खेल को फायदा होगा।

आईएएनएस से बात में उन्होंने कहा, “हमें लगता है कि आईपीएल में समय सीमा और बाकी चीजों को देखते हुए आठ टीमों की संख्या फ्रेंचाइजी और सितारों के लिए अच्छी है। लेकिन, कुछ नए फ्रेंचाइजी लाने से आपको नए स्टेडियम में खेलने, नए प्रशंसकों से जुड़ने और ज्यादा मैच खेलने का मौका मिलेगा, जो निश्चित तौर पर खेल के लिए बेहतर होगा।”

फ्रेंचाइजियों के अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर दोस्ताना मैच खेलने और लीग में पावर प्लेयर को लाने के मामले में भी बडाले ने अपने विचार रखे और कहा कि प्रयोग करने का मौका हमेशा होता है और विदेशी जमीन पर दोस्ताना मैच का विचार ऐसा है जिसे गंभीरता से लिया जाना चाहिए।

दशक के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुने गए भारतीय कप्तान विराट कोहली

उन्होंने कहा, “हमने पहला और अभी तक का इकलौता अंतर्राष्ट्रीय दोस्ताना मैच लॉर्ड्स में 2009 में मिडिलसेक्स के साथ खेला था। हम हर साल इस तरह के दोस्ताना मैच खेलना पसंद करेंगे। जहां तक पावर प्लेयर की बात है तो ये निश्चित तौर पर दिलचस्प प्रयोग है, लेकिन इस पर टिप्पणी करने से पहले मुझे देखना होगा कि ये किस तरह से काम करेगा।”

आमतौर पर ये माना जाता है कि फ्रेंचाइजी के मालिक क्रिकेट संबंधी गतिविधियों में दखल देते हैं लेकिन बडाले इन सभी से दूर रहे हैं और मानते हैं कि ये उनका कार्यक्षेत्र नहीं है।

उन्होंने कहा, “ये भी बाकी व्यवसायों की तरह ही है जहां आपको संगठन को चलाने के लिए पेशेवर लोगों पर निर्भर रहना होता है। हमारे पास बेहतरीन कोचिंग स्टाफ और कप्तान हैं जिनको पता है कि इस टीम को सफल कैसे बनाना है। ये कोच और कप्तान का काम है कि वो मुश्किल समय में टीम को प्रेरित करें। मैं मैच के बाद हल्की फुल्की बातों के लिए हमेशा मौजूद रहूंगा। मेरा काम हमारी फ्रेंचाइजी की संस्कृति, मूल्यों को बनाए रखना है।”

पिता की तबीयत में सुधार के बाद इंग्लैंड टीम के साथ जुड़े बेन स्टोक्स

टीम को पूरी स्वतंत्रता देने के बाद भी अगर टीम अच्छा नहीं करती है तो क्या उन्हें गुस्सा आता है? इस पर बडाले ने कहा, “हां कुछ ऐसा समय रहा है जहां गुस्सा आता था लेकिन ये खेला का हिस्सा है। रास्ते में इस तरह की चुनौतियां आती हैं लेकिन इस बार हमारे पास शानदार कोच और कप्तान हैं और एक बेहतरीन युवा टीम जो लंबे समय तक प्रतिस्पर्धा कर सकती है। आईपीएल बेहतरीन टूर्नामेंट है जो पूरे विश्व में अलग है। हमारे प्रशंसक शानदार हैं और जो भी नतीजा होता है, उनका समर्थन हमेशा रहता है और वो हमें लगातार प्रेरित करते रहते हैं।”

राजस्थान ने अपने नेतृत्व में कई तरह के बदलाव किए हैं लेकिन वो स्टीव स्मिथ के साथ बनी हुई है। इस साल उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के ही एंड्रयू मैक्डोनाल्ड को टीम का मुख्य कोच बनाया है, जो कि बतौर कोच अगले साल जनवरी में कंगारू टीम के साथ भारत दौरे पर भी आने वाले हैं।

रणजी मैच से बाहर रहे जसप्रीत बुमराह, जानें क्या है कारण

बडाले को लगता है कि इन दोनों के पास टीम से बेहतर निकलवाने की क्षमता है। उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि हमारे पास कोच और कप्तान का सही संयोजन है। एंड्रयू को चुनने के लिए हमने लंबी प्रक्रिया ली थी और हम उनकी नियुक्ति से काफी खुश हैं। स्मिथ के रूप में हमारे पास ऐसा कप्तान है जिसका आईपीएल में जीत का शानदार रिकार्ड है।”