कोरोना वायरस के बीच अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का आयोजन कर रहा इंग्लिश क्रिकेट बोर्ड वेस्टइंडीज के बाद अब आयरलैंड टीम की मेजबानी करेगा। इंग्लैड-आयरलैंड के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेली जानी है, जिसके लेकर सीमित ओवर फॉर्मेट टीम के कप्तान इयोन मोर्गन (Eoin Morgan) काफी उत्साहित हैं।

मोर्गन ने कहा है कि आयरलैंड सीरीज के लिए टीम में युवा खिलाड़ियों को मौका देने से उन्हें भविष्य में टी20 विश्व कप और 50 ओवर के विश्व कप को ध्यान में रखकर एक टीम बनाने में मदद मिलेगी।  मोर्गन की कप्तानी में इंग्लैंड की पुरुष क्रिकेट टीम ने 2019 में पहला वनडे विश्व कप जीता था।

आयरलैंड के खिलाफ होने वाली सीरीज के लिए बेन स्टोक्स (Ben Stokes), जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) और जो रूट (Joe Root) जैसे सीनियर खिलाड़ियों को आराम देकर कुछ नए चेहरों को टीम में मौका दिया है।

स्काई स्पोर्टस ने मोर्गन के हवाले से कहा, “ये सीरीज शायद इस तथ्य के समान है कि हम नए खिलाड़ियों के साथ एक नई यात्रा की शुरूआत में हैं। हम एक ही जैसी योजनाओं को लागू करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन अगले साल की तरह टी 20 विश्व कप और तीन साल के समय में 50 ओवर का क्रिकेट कैसा दिख सकता है, ये जानने की कोशिश कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, “इसलिए हमारा मुख्य ध्यान उन सभी खिलाड़ियों में से सर्वश्रेष्ठ को शामिल करना है, जो इसके लिए चुने गए हैं। हमें उम्मीद है कि यह उन खिलाड़ियों के लिए मौके बनाएंगे, जिससे हमें एक मजबूत टीम मिले। निर्णय लेने को लेकर पिछले चार साल काफी मुश्किल रहे हैं और मुझे लगता है कि जिस किसी को भी बाहर किया गया है, वो फैसला लेना कठिन था।”