भारतीय टीम में शामिल सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा एलीट ‘100 टेस्ट क्लब’ में शामिल होने से सिर्फ आठ टेस्ट दूर हैं लेकिन वह इस उपलब्धि के बारे में सोचकर अपना ध्यान नहीं भटकाना चाहते।

मौजूदा टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी इशांत ने अपने 31वें जन्मदिन के मौके पर कहा कि एकाग्रता खोने की जगह अपने काम पर ध्यान देना अधिक बेहतर है।

पढ़ें:- एशिया के बाहर भारत के लिए सर्वाधिक टेस्ट विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बने इंशात शर्मा

वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे और अंतिम क्रिकेट क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन के खेल की शुरुआत से पहले तक इशांत के नाम 92 टेस्ट में 277 विकेट दर्ज थे और वह भारतीय तेज गेंदबाजों की सूची में कपिल देव (434 विकेट) और जहीर खान (311 विकेट) के बाद तीसरे स्थान पर हैं।

एशिया के बाहर सबसे अधिक विकेट चटकाने वाले भारतीय तेज गेंदबाजों की सूची में कपिल देव को पीछे छोड़कर शीर्ष पर पहुंचे इशांत ने मेजबान प्रसारणकर्ता सोनी स्पोर्ट्स नेटवर्क से कहा, ‘‘मुझे याद है कि कुछ साल पहले जहीर मुझे 100 टेस्ट के बारे में कुछ कह रहा था लेकिन वह भी इस उपलब्धि को पूरा नहीं कर पाया (92 टेस्ट)। मेरे कहने का मतलब है कि अगर मैं चार-पांच साल और खेलता हूं तो हां, मैं इसे पूरा कर सकता हूं लेकिन मैं इसके बारे में सोचना नहीं चाहता।’’

पढ़ें:- बुमराह की बाउंसर पर घायल हुए ब्रावो, बीच मुकाबले में यह खिलाड़ी बना प्‍लेइंग-XI का हिस्‍सा

इशांत ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि अगर आप काफी आगे के बारे में सोचने लगते हो तो भ्रमित हो जाते हो इसलिए बेहतर है कि एक बार में एक टेस्ट के बारे में सोचो।’’

इशांत इतने कम समय में जसप्रीत बुमराह के घातक गेंदबाज बन जाने से भी खुश हैं। उन्होंने कहा, ‘‘बुमराह शानदार है। हमारे लय में आने से पहले ही वह पांच या छह विकेट हासिल कर रहा है। मैंने उसे मजाक में कहा कि इंतजार करो, हमें लय में तो आने दो।’’