Ishant Sharma, R Ashwin will Undergo Fitness Test on September 29
Ishant Sharma and R Ashwin (File Photo) © Getty Image

भारत और वेस्‍टइंडीज के बीच दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज का पहला मुकाबला चार अक्‍टूबर से राजकोट में खेला जाना है। टेस्‍ट सीरीज के लिए टीम इंडिया का सिलेक्‍शन अभी नहीं किया गया है। भारतीय टीम के चोटिल स्पिन गेंदबाज इशांत शर्मा और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को टीम में वापसी से पहले फिटनेस टेस्‍ट से गुजरना होगा।

खबर के मुताबिक 29 सितंबर को दोनों का फिटनेस टेस्‍ट से गुजरना होगा। पहले खबर थी कि एशिया कप 2018 के फाइनल मुकाबले के दिन ही टेस्‍ट सीरीज के लिए टीम की घोषणा की जा सकती है। अब सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि टीम का ऐलान में और देरी होने की संभावना है।

बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को कहा, ‘‘अश्विन ग्रोइन चोट के लिए एनसीए में रिहैबिलिटेशन कर रहे हैं। इशांत के भी वहीं जाने की उम्मीद है। इसलिए 29 सितंबर को फिटनेस टेस्‍ट कराएंगे। अगर एनसीए के फिजियो और ट्रेनर फिटनेस टेस्‍ट से पहले इन दोनों की फिटनेस को हरी झंडी दे देते हैं तो चयनकर्ता एक दिन पहले भी टीम की घोषणा कर सकते हैं।’’

चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद और उनके साथी देवांग गांधी ने प्रस्तावित चयन बैठक के रद्द होने के बाद बुधवार को दिल्ली के होटल में मुलाकात की और टेस्ट सीरीज के लिए शुरूआती सूची तैयार की। पीटीआई को उपलब्ध दस्तावेजों के अनुसार बीसीसीआई के कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी ने नोटिस जारी किया था कि बुधवार को होने वाली बैठक का एजेंडा वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज टीम का चयन होगा लेकिन बाद में इसे रद्द कर दिया गया

अधिकारी ने कहा, ‘‘यह पहले तय कर दिया गया था लेकिन पांच चयनकर्ताओं का कार्यक्रम अलग अलग था क्योंकि सरनदीप सिंह दुबई में हैं जबकि दो अन्य जतिन परांजपे और गगन खोडा विभिन्न स्थलों पर विजय हजारे ट्रॉफी के मैच देख रहे हैं। इसलिए फैसला किया गया कि यह अनौपचारिक बैठक होगी जिसमें चयनकर्ता परिस्थिति का जायजा लेंगे।’’

कुछ विषय ऐसे भी हैं जिससे चयनकर्ताओं को अब भी जूझना पड़ रहा है विशेषकर 15 खिलाड़ियों की टीम में सलामी बल्लेबाजी स्थान पर और विशेषज्ञ स्पिनर पर। अधिकारी ने कहा, ‘‘चयन समिति का उद्देश्य सीरीज के लिए ऐसी टीम चुनने का है जो ऑस्ट्रेलिया रवाना होने वाली टीम के हुबहू हो। और या फिर ऐसा हो, जब टीम ऑस्ट्रेलिया रवाना होगी तो बस एक या दो खिलाड़ियों को 15 सदस्‍यीय टीम में शामिल किया जाए।’’

अब तक देखा जाए तो इंग्लैंड टेस्ट में खराब प्रदर्शन के बाद भी शिखर धवन टीम प्रबंधन के पसंदीदा बने रहेंगे। चयनकर्ताओं के लिए पृथ्वी साव और मयंक अग्रवाल को शामिल करना चुनौती होगी। चयन समिति स्पिनरों की पसंद पर बहस कर सकती है। अश्विन अगर नहीं खेलते हैं तो टीम प्रबंधन का पसंदीदा विकल्प युजवेंद्र चहल होगा। इंडिया ए के कोच राहुल द्रविड़ ने कुछ दिन पहले कहा था कि हरियाणा के इस लेग स्पिनर को लाल गेंद से क्रिकेट के लिए तैयार होने के लिए अभी कुछ मैचों की जरूरत है।

टीम प्रबंधन के करीबी सूत्र ने कहा कि वेस्टइंडीज चहल के लिए टेस्ट में मौका देने के लिए अच्छा प्रतिद्वंद्वी हो सकता है और अच्छे प्रदर्शन से उनकी ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए उम्मीदवारी बढ़ेगी ही। हालांकि अगर अश्विन फिट घोषित होते हैं तो चहल को इंतजार करना पड़ सकता है।

(एजेंसी इनपुट के साथ)