It is good to be attacking but have to be able to save runs too- Kuldeep Yadav
kuldeep Yadav @IANS

इंडियन टी20 लीग में कोलकाता की तरफ से खेलने वाले स्पिनर कुलदीप यादव ने दुनिया के दिग्गज बल्लेबाजों को छकाया है। हालिया टूर्नामेंट में दिल्ली के खिलाफ आखिरी ओवर में उन्होंने 6 रन बचाकर मुकाबला सुपर ओवर तक पहुंचाया था। पिछले कुछ सालों में उनकी गेंदबाजी में काफी सुधार हुआ है।

कोलकाता की टीम से लंबे समय से खेल रहे कुलदीप ने हिन्दुस्तान टाइम्स से बात करते हुए कहा, ”मुझे इस टीम के साथ 6 साल हो चुके हैं, यह मेरे लिए अब एक परिवार की तरह है। यहां हर कोई एक दूसरे की मदद करता है। जब मैं शामिल हुआ था तब गौतम गंभीर टीम के कप्तान थे और जैक्स कैलिस सीनियर सदस्य थे फिर बतौर कोच टीम के साथ रिश्ता आगे बढ़ाया, मैंने इनसे काफी कुछ सीखा।”

पढ़ें:- गौती भाई चाहते थे कि मैं लंबा खेलने वाला क्रिकेटर बनूं: कुलदीप

”गौती भाई ने हमेशा मुझे मोटिवेट किया और मेरा समर्थन किया। हमेशा ही मुझे बेहतर और बेहतर करने के लिए प्रेरित किया। अब मैं सीनियर बन गया हूं और टीम को उसके लक्ष्य तक पहुंचने में मदद करके अपना काम कर रहा हूं ताकि वह इस खूबसूरत ट्रॉफी को उठा सके।”

”अब तक तो हमारी शुरुआत काफी अच्छी रही है। घर पर खेलते हुए हम पिछले दो मुकाबलों मे शानदार थे। दिल्ली के खिलाफ मैच में बने रहने के लिए हमने अच्छी क्रिकेट खेली लेकिन आप कह नहीं सकते सुपर ओवर में क्या होगा। मुझे लगता है अब तक हमने अच्छा काम किया है। उम्मीद है हम अच्छा करेंगे क्योंकि अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं। पिछली बार हम नॉकआउट में हार गए लेकिन इस बार यकीन है फाइनल्स में पहुंचेंगे।”

कोलकाता की टीम ने तीन में से दो मुकाबले जीते हैं। घर पर खेलते हुए पहले हैदराबाद और फिर पंजाब को हराया था। कुलदीप ने प्रदर्शन पर बात करते हुए कहा कि उन्होंने गेंदबाजी में अच्छा किया है लेकिन रन भी बचाना चाहते हैं।

”मैं वो हुनर सीखना चाहता हूं जिससे की मुझे रन ना पड़े। कभी- कभी बल्लेबाज आपकी गेंद को मारने में कामयाब होता है लेकिन मेरी ताकत है गेंद को ज्यादा हवा में रखना, और गेंद स्पिनर करा लेता हूं, मैं इसके लिए खुद पर भरोसा रखता हूं। यह एक ऐसी चीज है जहां मैं बेहतर करना चाहता हूं क्योंकि आक्रामक होना ठीक है लेकिन आपको टीम के बारे में भी सोचना होता है और रन भी बचाना होता है।”