it is in players hands to make a choice if they want to continue or leave the ipl 2021 says graeme smith
ग्रीम स्मिथ ©IANS

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2021) में सोमवार को दो अलग-अलग टीमों में कोविड-19 के मामले सामने आने के बाद विदेशी खिलाड़ियों और उनके क्रिकेट बोर्ड की चिंताएं बढ़ गई हैं. ऐसी भी खबरें हैं कि कई खिलाड़ी लीग छोड़कर स्वदेश लौटना चाहते हैं. लेकिन अभी तक किसी भी देश के क्रिकेट बोर्ड ने खिलाड़ियों को आईपीएल छोड़ने की सलाह नहीं दी है.

इस बीच साउथ अफ्रीका के क्रिकेट निदेशक और पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ (Graeme Smith) ने आईपीएल में खेल रहे अपने देश के क्रिकेटर्स से कहा कि उनका बोर्ड खिलाड़ियों की मदद के लिए तैयार है लेकिन यह फैसला उन्हें (क्रिकेटरों को) खुद करना है कि वे इंडियन प्रीमियर लीग में बने रहना चाहते हैं या नहीं.

सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के वरुण चक्रवर्ती और संदीप वॉरियर इस वायरस से संक्रमित पाए गए. इस कारण रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) के खिलाफ उसका मैच स्थगित कर दिया गया. चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के स्टाफ के कुछ सदस्यों का परीक्षण भी पॉजिटिव आया है.

आईओएल.सीओ.जेडए के अनुसार ग्रीम स्मिथ ने कहा, ‘हमने खिलाड़ियों को सहयोग की पेशकश की है और यदि किसी तरह की चिंता होती है है तो खुद को उपलबध रखा है.’ उन्होंने कहा, ‘अंतत: (आईपीएल में बने रहने का) फैसला उन्हें ही करना है.’

साउथ अफ्रीका के 11 खिलाड़ी अभी आईपीएल में विभिन्न टीमों की तरफ से खेल रहे हैं. इनमें विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डिकॉक, तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा और पूर्व कप्तान फाफ डुप्लेसिस भी शामिल हैं.