it seems that Steve Smith had never left the Australian team -Aaron Finch
Steve Smith @ IANS

आईसीसी विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया की टीम में वापसी करने वाले स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर का फॉर्म में होना टीम के लिए अच्छे संकेत हैं। स्मिथ और वार्नर पर बॉल टैंपरिंग में दोषी पाए जाने के बाद एक-एक साल का प्रतिबंध लगाया गया था।

टीम के कप्तान एरोन फिंच ने शुक्रवार को कहा कि स्मिथ शानदार लय में लौट आए हैं और उनके शानदार प्रदर्शन को देखकर ऐसा लगता है कि वह कभी भी ऑस्ट्रेलियाई टीम से बाहर नहीं हुए थे।

पढ़ें:- फिंच को भरोसा, विश्व कप जीतने का अनुभव टीम के काम आएगा

ऑस्ट्रेलियाई टीम 30 मई से शुरू होने वाले विश्व कप की तैयारियों में जोर शोर से जुटी हुई है और न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ प्रैक्टिस मैचों की तीन मैचों की सीरीज में उसने 2-1 से जीत हासिल की। एक साल का प्रतिबंध झेलकर टीम में वापसी करने वाले स्मिथ ने बेहतरीन पारियां खेलीं।

स्मिथ इंडियन प्रीमियर लीग में इतना खास प्रदर्शन नहीं कर पाए थे लेकिन उन्होंने न्यूजीलैंड एकादश के दो प्रैक्टिस मैचों में नाबाद 89 और 91 रन की पारी खेली।

पढ़ें:- स्मिथ की 91 रन की पारी से ऑस्‍ट्रेलिया ने न्‍यूजीलैंड पर दर्ज की जीत

फिंच ने ईएसपीएन क्रिकइंफो से कहा, ‘‘उनकी (स्मिथ) की टाइमिंग और लय फिर से वापस आ गई है। ऐसा लगता है कि वह कभी टीम से गए ही नहीं थे। मुश्किल विकेट पर उनकी ड्राइव और फ्रंट फुट की टाइमिंग इतनी प्रभावशाली थी।’’

फिंच इस बात से खुश हैं कि स्मिथ और वार्नर ने प्रतिबंध के दौरान के समय का पूरा फायदा उठाया और कड़ी मेहनत जारी रखी। वार्नर ने आईपीएल में हैदराबाद की टीम के लिए खेलते हुए शानदार बल्लेबाजी की। उन्होंने 12 मुकाबले खेलकर 1 शतक और 8 अर्धशतक बनाते हुए कुल 692 रन जुटाये थे।

पढ़ें:- विश्व कप के दौरान इंग्लैंड की विकेटों के साथ ढलना अहम : ब्रेट ली

उन्होंने कहा, ‘‘ये दोनों दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से हैं और इनकी टीम में मौजूदगी अहम है।’’