पूर्व दिग्गजों एलेन विकिन्स, सुनील गावस्कर, मेलानी जोन्स और शॉन पॉलक द्वारा आयोजित किए गए कार्यक्रम के दौरान पूर्व क्रिकेटरों जैक कैलिस (Jacques Kallis), लीजा स्टालेकर (Lisa Sthalekar)और जहीर अब्बास (Zaheer Abbas) को आईसीसी हॉल ऑफ फेम (ICC Cricket Hall of Fame) में शामिल किया गया। पूर्व तेज गेंदबाज वसीस अकरम समेत ग्रीम स्मिथ और एलीसा हीली में वर्चुअल कार्यक्रम का हिस्सा थे।

कैलिस आईसीसी हॉफ ऑफ फेम में शामिल होने वाले चौथे दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी हैं, जबकि जहीर छठें पाकिस्तानी क्रिकेटर हैं। लीजा इस समूह में शामिल होने वाली 27वीं ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और नौंवी महिला खिलाड़ी हैं।

कार्यक्रम के दौरान आईसीसी के मुख्य अधिकारी मनु साहनी ने कहा, “आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ फेम में शामिल होने वाले नए दिग्गजों के नाम की घोषणा करना हमेशा खुशी की बात होती है। ये सभी विरासत वाले खिलाड़ी हैं जो आने वाली पीढ़ियों को आने वाले सालों के लिए प्रेरित करते रहेंगे। मैं जहीर, जैक और लीजा को क्रिकेट के महान खिलाड़ियों की सूची में शामिल होने के लिए बधाई देता हूं।”

पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर कैलिस ने कहा, “आईसीसी क्रिकेट हॉल ऑफ फेम में शामिल होना बड़ा सम्मान है। ये ऐसी चीज है जिसकी खेल शुरू करते समय मैंने कभी उम्मीद नहीं की थी। मैंने निश्चित रूप से किसी भी प्रशंसा के लिए खेल नहीं खेला, मैं केवल उसी के लिए खेल जीतना चाहता था जिसके लिए मैं खेल रहा था।”

उन्होंने कहा, “खेल में सफलता मिलने के बाद सम्मान पाकर अच्छा लग रहा है। आपके जो सफलता हासिल की हो उसके लिए पहचाना जाना अच्छा है। इस पर मुझे गर्व है।”

स्टालेकर ने कहा, “मैं इस सम्मान को पाकर विनम्र महससू कर रही हूं। मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं इतने बड़े खिलाड़ियों के समूह का हिस्सा बनूंगी।”

पूर्व पाक क्रिकेटर ने कहा, “मैं आईसीसी हॉल ऑफ फेम की 2020 क्लास का हिस्सा बनकर बेहद गर्व और खुशी महसूस कर रहा हूं। मैं इन दिग्गज खिलाड़ियों के बीच आकर उत्साहित हूं।”