James Anderson eyes New Zealand tour for comeback
जेम्स एंडरसन (Getty images)

एशेज सीरीज से बाहर हो चुके इंग्लिश गेंदबाज जेम्स एंडरसन को उम्मीद है कि वो नवंबर में होने वाले न्यूजीलैंड दौरे से पहले फिट हो जाएंगे। तेज गेंदबाज एंडरसन कॉफ इंजरी की वजह से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज से बाहर हैं।

20 नवंबर से शुरू होने वाले न्यूजीलैंड दौरे से कमबैक के बारे में एंडरसन ने कहा, “अगर मैं फिट हो सकता तो ये शानदार होगा। अगर नहीं तब दक्षिण अफ्रीका मेरी लिस्ट में दूसरे नंबर पर होगा। हमें इंतजार करना होगा। पिछले कुछ महीने काफी निराशाजनक रहे हैं। इस सीरीज के लिए समय पर तैयार होने के दबाव से निपटने में ये (कॉफ इंजरी) सफल नहीं रहा है। इसलिए मैं इसी पूरी तरह से ठीक होने का समय देना चाहता हूं। मैं फिर कभी भी ‘अब तुम्हारी कॉफ कैसी है’ सवाल का जवाब नहीं देना चाहता।”

इंग्लैंड टीम के शेड्यूल की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज खत्म करने के बाद उन्हें अक्टूबर के आखिर में न्यूजीलैंड दौरे पर जाना है जो कि एक नवंबर से शुरू होकर 3 दिसंबर तक चलेगा। 1 से 10 नवंबर तक पांच मैचों की टी20 सीरीज खेली जाएगी, जिसका हिस्सा एंडरसन नहीं होंगे। इस दौरे पर जाने के लिए उन्हें 21 नवंबर से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज से पहले फिट होना होगा।

हमसे ज्यादा ऑस्ट्रेलिया के अनुकूल हैं इंग्लैंड की पिचें: जेम्स एंडरसन

अगर एंडरसन समय पर फिट ना होने की वजह से न्यूजीलैंड दौरा मिस कर जाते हैं तो उनके पास 26 दिसंबर से दक्षिण अफ्रीका दौरे पर होने वाली चार मैचों की सीरीज का हिस्सा बनने का मौका होगा।

इस बीच वो अपना पूरा ध्यान रीहैब पर लगा रहे हैं। जिसके बारे में एंडरसन ने कहा, “मैंने जब इस रीहैब की शुरुआत करूंगा, मैं खुद को उम्र के साथ फिट रखने के हरसंभव तरीके को ढूंढने का प्रयास करूं। मैं अच्छी स्थिति में हूं। मैं फिट महसूस कर रहा हूं। बस कॉफ थोड़ी तकलीफ देती है।”

सैंट किट्स ने जमैका को हरा दर्ज की टी20 की दूसरी सबसे सफल चेज

एंडरसन का कहना है कि वो खेल जगत की उन शख्सियतों के रूटीन के बारे में जानने का प्रयास करेंगे जिन्होंने 30 की उम्र पार करने के बाद भी खुद को फिट बनाए रखा। उन्होंने कहा, “मैं देखूंगा कि दूसरे खिलाड़ियों ने 30 की उम्र के बाद अपने करियर के आगे बढ़ाने के लिए क्या किया। क्या ऐसी कोई खास डायट या जिम रूटीन या सप्पलीमेंट्स हैं जो मैं इस्तेमाल में ला सकता हूं। क्योंकि मेरे अंदर क्रिकेट खेलने की भूख अब भी है। मैं अब भी इस खेल से प्यार करता हूं और टीम को बहुत कुछ दे सकता हूं और मेरे पास अब भी सकारात्मक प्रभाव डालने के लिए जरूरी गति से गेंदबाजी करने की काबिलियत है।”

चोट के चलते एशेज सीरीज से बाहर होने के बाद एंडरसन के संन्यास लेने की अफवाहों को हवा मिल गई थी। हालांकि इंग्लिश गेंदबाज ने साफ किया कि उनका ऐसा कोई इरादा नहीं है। उन्होंने कहा, “मुझे अब भी लगता है कि मैं विश्व का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज बन सकता हूं। इसलिए जब तक ये मानसकिता रहेगी मैं खुद को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता रहूंगा।”