जेम्स एंडरसन © Getty Images
जेम्स एंडरसन © Getty Images

एशेज सीरीज में अब बस कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं। दोनों देशों की तरफ से बयानबाजी का दौर जारी है और दोनों ही अपनी-अपनी जीत का दम भर रहे हैं। बेन स्टोक्स के टीम के साथ ना आने के बाद टीम में उप कप्तान की कुर्सी खाली है और माना जा रहा है कि टीम मैनेजमेंट जल्द ही उप कप्तान के नाम का ऐलान कर सकता है। हालांकि टीम के सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने उप कप्तान बनने की इच्छा जाहिर की है। जब एंडरसन से पूछा गया कि क्या वो उप कप्तान की रेस से खुद को बाहर रखते हैं तो उन्होंने कहा, ‘बिलकुल भी नहीं।’

उप कप्तानी के लिए तैयार हूं: एंडरसन ने कहा, ‘पिछले कुछ सालों में टीम में मेरी भूमिका एक कप्तान के तौर पर ही है। युवा गेंदबाज मेरे पास आते हैं और मुझसे सलाह लेते हैं। मैं उन्हें बताता हूं कि आपको कैसी गेंदबाजी करनी चाहिए और मैं उनकी पूरी मदद करता हूं। मेरा मानना है कि जो रूट के पास ऐसे खिलाड़ी होने चाहिए जो उनका दबाव कम कर सके। हमारी इस टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो इससे पहले कभी ऑस्ट्रेलिया दौरे पर नहीं आए। ऐसे में हम जैसे खिलाड़ियों की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है।’

ऑस्ट्रेलिया पर रख रहे हैं नजर: एंडरसन ने इस बात का भी खुलासा किया कि वो पिछले 2 साल से ऑस्ट्रेलियाई टीम पर बारीक नजर बनाए हुए हैं। एंडरसन ने कहा, ‘मैंने पिछले 2 साल से ऑस्ट्रेलियाई टीम को ज्यादा से ज्यादा देख रहा हूं। हमें पता है कि एशेज जीतना है तो हमें कुछ खास करना होगा। जैसे-जैसे दिन नजदीक आते जाएंगे वैसे-वैसे हम उनकी और कमजोरी तलाशने की कोशिश करेंगे।’

फाइनल मैच से पहले एम एस धोनी ने दी विराट कोहली को शिकस्त
फाइनल मैच से पहले एम एस धोनी ने दी विराट कोहली को शिकस्त

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच एशेज सीरीज का पहला टेस्ट मैच 23 नवंबर से ब्रिस्बेन में खेला जाएगा। इसके बाद दूसरा टेस्ट 2 दिसंबर से एडिलेड में खेला जाएगा। एडिलेड में खेला जाने वाला टेस्ट डे-नाइट होगा। ये पहली बार होगा जब एझेस सीरीज में डे-नाइट खेला जाएगा। सीरीज का तीसरा मुकाबला 14 दिसंबर से पर्थ में खेला जाएगा। चौथा मैच 26 दिसंबर से मेलबर्न में और पांचवां मुकाबला 4 जनवरी से सिडनी में खेला जाएगा।