Jason Holder: West Indies players see Jofra Archer as another Englishman after taking field
Jofra Archer @twitter

वेस्टइंडीज कोरोनावायरस के बाद किसी देश का दौरा करने वाली पहली क्रिकेट टीम बन गई है। जेसन होल्डर की अगुआई में विंडीज टीम इस समय इंग्लैंड में है जहां उसे 8 जुलाई से साउथैम्प्टन में सीरीज पहला टेस्ट मैच खेलना है। होल्डर का कहना है कि बारबाडोस में जन्में तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर को उनकी टीम इंग्लैंड के एक अन्य खिलाड़ी की तरह ही देखेगी।

आर्चर ने 2018 में इंग्लैंड की तरफ से खेलने की अर्हता हासिल की थी। वह 2014 में वेस्टइंडीज की तरफ से अंडर-19 टीम में खेल चुके हैं। वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज केमार रोच ने रविवार को आर्चर को आगाह किया था कि श्रृंखला के दौरान उनके साथ दोस्ती जैसी कोई चीज नहीं होगी।

1999 में पाकिस्‍तान का भारत दौरा है वसीम अकरम की पहली पसंद, चेन्‍नई के फैन्‍स ने दिया था…

होल्डर ने भी इसी तरह की बात की और कहा कि तीन मैचों की श्रृंखला शुरू होने के साथ ही आर्चर के साथ दोस्ती पीछे छूट जाएगी। होल्डर ने ‘गुड मार्निंग ब्रिटेन’ कार्यक्रम में कहा, ‘आर्चर अब इंग्लैंड का खिलाड़ी है। केमार रोच ने साक्षात्कार दिया था और उन्होंने भी यही बात कही थी।’

उन्होंने कहा, ‘मैदान के बाहर हम दोस्त हैं लेकिन जब हम मैदान पर प्रवेश करते हैं तो वह हमारे लिए इंग्लैंड का एक अन्य खिलाड़ी है। मुझे विश्वास है कि वह भी हमें परेशानी में डालने के लिए तैयार होगा।’

तीन मैचों की इस श्रृंखला से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की भी वापसी होगी जो कोविड-19 महामारी के कारण मार्च से ही ठप्प है। अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद नस्लवाद के खिलाफ विश्व भर में चल रहे प्रदर्शन के बारे में होल्डर ने कहा कि वेस्टइंडीज की टीम ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ अभियान का पूरा समर्थन करती है।

उन्होंने कहा, ‘एक टीम के रूप में हम इस अभियान के प्रति अपना समर्थन दिखाएंगे। हमारी इसको लेकर चर्चा हुई और आठ जुलाई को हम अपना समर्थन दिखाएंगे।’