Jasprit Bumrah After Five Wicket Haul: I didn’t change in my technique, its all about changing approck
Jasprit Bumrah @ Twitter

Jasprit Bumrah Respods to Five Wicket Haul: भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला के लिये कोई विशेष तैयारियां नहीं की लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल के बाद मानसिकता में बदलाव और केवल वर्तमान के बारे में सोचने से उन्हें लाभ मिला।

बुमराह इस श्रृंखला से पहले साउथम्पटन में खेले गये डब्ल्यूटीसी फाइनल में विकेट नहीं ले पाये थे लेकिन उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में शानदार गेंदबाजी की तथा पहली पारी में 46 रन देकर चार और दूसरी पारी में 64 रन देकर पांच विकेट लिये।

 

IND vs ENG 1st Test: अश्विन होते तो अतिरिक्‍त मौके बनाते, मिडल ऑर्डर में अलग कहानी होती: लक्ष्‍मण

बुमराह से जब टेस्ट श्रृंखला की तैयारियों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो बहुत अधिक बदलाव नहीं करने पड़े केवल मानसिकता में थोड़ा बदलाव करना पड़ा। संभवत: यह परिणाम पर ध्यान न देकर वर्तमान में जीने, अपने कौशल पर भरोसा करने और क्रिकेट का लुत्फ उठाने से जुड़ा है।’’

भारत डब्ल्यूटीसी फाइनल में न्यूजीलैंड से आठ विकेट से हार गया था। इसमें बुमराह ने पहली पारी में 57 और दूसरी पारी में 35 रन दिये लेकिन उन्हें विकेट नहीं मिला था।

Trent Bridge Nottingham Weather Forecast, India vs England: कहीं, बारिश-हवाएं आखिरी दिन बिगाड़ ना दें भारत का जीत का समीकरण ?

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद बुमराह ने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैंने बहुत अधिक बदलाव नहीं किये और न ऐसा करना चाहता हूं। मैं हमेशा अपने खेल में सुधार करने की कोशिश करता रहा हूं और उसमें नयी चीजें जोड़ने का प्रयास करता हूं। इसके साथ उन चीजों को लेकर आगे बढ़ना चाहता हूं जो अभी मेरे पास हैं। ’’

भारत को पहला टेस्ट मैच जीतने के लिये 157 रन की आवश्यकता है और उसके नौ विकेट बचे हुए हैं। बुमराह ने कहा कि टीम बहुत आगे के बारे में नहीं सोच रही और सत्र दर सत्र आगे बढ़ना चाहती है।

उन्होंने कहा, ‘‘जब आप मैच खेलना शुरू करते हैं तो आपको स्वयं पर विश्वास होना चाहिए कि आप जीतना चाहते हैं और जीत के लिये खेलना चाहते हैं लेकिन हम बहुत आगे के बारे में नहीं सोचना चाहते। हमने अच्छी शुरुआत की है और सत्र दर सत्र आगे बढ़ना चाहते हैं।’’

इंग्लैंड को पहली पारी में 183 रन पर आउट करने के बाद भारत ने केएल राहुल के 84 और रविंद्र जडेजा के 56 रन की मदद से 278 रन बनाकर 95 रन की बढ़त हासिल की।

कप्तान जो रूट के 109 रन के बावजूद इंग्लैंड दूसरी पारी में 303 रन ही बना पाया जिससे भारत को 209 रन का लक्ष्य मिला। भारत ने चौथे दिन का खेल समाप्त होने तक एक विकेट पर 52 रन बनाये हैं और वह लक्ष्य से 157 रन दूर है।