Jasprit Bumrah and Bhuvneshwar Kumar should have played: Sunil Gavaskar
Bhuvneshwar-kumar-jasprit-bumrah

वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए चुनी गई टीम को लेकर लगातार सवाल उठ रहे हैं। पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने तेज गेंदबाजी जोड़ी भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को सीरीज में आराम दिए जाने पर हैरानी जताई है।

इंग्लैंड में खेली गई हालिया टेस्ट सीरीज में मिली हार के बाद अब भारतीय टीम को वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट में वापसी की उम्मीद है।

टाइम्स ऑफ इंडिया के कॉलम में पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने लिखा, ”तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में दोनों टीमों के पास जीत का मौका रहता है। दो टेस्ट की सीरीज में दोनों टीमें एक-एक मैच जीतकर बराबर रहती है। विजेता का फैसला करने के लिए कोई तीसरा टेस्ट मैच नहीं होता।”

गावस्कर ने लिखा, ”यह वेस्टइंडीज टीम पांच साल पहले सचिन तेंदुलकर के विदाई टेस्ट सीरीज में आई टीम से काफी मजबूत है। ब्रेथवेट, साई होप, सुनील एम्ब्रिस काफी आकर्षक स्ट्रोक प्लेयर हैं। कप्तान जेसन होल्डर नीचले क्रम में काफी अहम हैं उनको आउट करना मुश्किल काम होगा।”

भारत की तरफ से दोनों मुख्य तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार को आराम दिए जाने पर गावस्कर ने हैरानी जताई। उन्होंने लिखा, ”ऐसा लगता है टेस्ट क्रिकेट को चयन के तौर पर देखा ही नहीं जाता। क्या दोनों गेंदबाजों को पूछा गया था, वो आराम चाहते हैं या नहीं। अगर आराम ही देना है तो फिर वो लिमिटेड इंटरनेशनल क्रिकेट में चाहिए ना कि टेस्ट में। अगर टेस्ट क्रिकेट को बचाए रखना है तो फिर इसमें बेस्ट खिलाड़ियों को हमेशा ही खेलना होगा।”

”जसप्रीत और भुवनेश्वर की गैर मौजूदगी में शार्दुल ठाकुर और मोहम्मद सिराज के लिए बेहतर मौका होगा। इन दोनों को अपनी क्षमता दिखानी होगी और ऑस्ट्रेलिया टूर के लिए टीम में जगह पक्की करनी होगी।”