Jasprit Bumrah urges bowlers not to get carried away on bouncy wicket at Sabina Park
जसप्रीत बुमराह (IANS)

जमैका टेस्ट में जीत की दहलीज पर खड़ी भारतीय टीम के सबसे बड़े मैचविनर जसप्रीत बुमराह ने गेंदबाजों ने पिच पर अतिरिक्त उछाल देखकर ज्यादा शॉर्ट पिच गेंद ना करने से अपील की है। तीसरे दिन स्टंप्स तक वेस्टइंडीज का स्कोर 45/2 था और टीम इंडिया को टेस्ट सीरीज 2-0 से जीतने के लिए 8 विकेट चाहिए।

दिन का खेल खत्म होने के बाद मीडिया के सामने आए बुमराह ने कहा, “इस तरह की उछाल भरी विकेट पर आप लालची हो सकते हैं और ज्यादा शॉर्ट पिच गेंद करने की सोचते हैं लेकिन आपको ऐसा नहीं करना चाहिए। आपको सही एरिया में गेंदबाजी चाहिए, दबाव बनाना चाहिए और फुल लेंथ गेंद करनी चाहिए इसलिए पहली पारी में हमारी यही योजना थी। हम केवल स्थिति का आकलन कर उसके हिसाब से गेंदबाजी करने की कोशिश कर रहे थे।”

बुमराह का ये भी कहना कि मैच के चौथे दिन तक पिच थोड़ी सपाट और बल्लेबाजी के लिए बेहतर हो जाएगी। ऐसे में और भी कसी गेंदबाजी करनी होगी। उन्होंने कहा, “अब विकेट थोड़ा बेहतर हो गया है। इसलिए, हरकत पहली पारी के मुकाबले कम हो गई है। हमें अच्छी गेंदबाजी करनी होगी, दोनों छोरों से दबाव बनाना होगा। इससे हमें (अच्छी स्थिति में पहुंचने में) मदद मिलेगी।”

लक्ष्य हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करें बल्लेबाज : केमार रोच

टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष पर मौजूद भारतीय टीम की सबसे बड़ी ताकत उनकी गेंदबाजी है, खासकर कि पेस अटैक। बुमराह, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा पिछले कुछ सालों में भारतीय टेस्ट टीम की सबसे बड़ी ताकत बन गए हैं। इस पर बुमराह का कहना है कि उन्होंने बिना नतीजे की चिंता किए केवल सही प्रक्रिया से काम किया।

टेस्ट हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज ने कहा, “हमने काफी मेहनत की है और पिछले साल हमने काफी मैच विदेश में खेले, इसलिए इसके पीछे काफी सारा स्पोर्ट है। हम एक दूसरे का समर्थन करते हैं और अगर चीजें ठीक नहीं हो रही होती हैं तो हम चर्चा करते हैं कि क्या बेहतर किया जा सकता है, इसलिए आगे बढ़ने की हमारी यही योजना थी। हमारे बीच अच्छी दोस्ती है, हम साल दर साल बेहतर होना चाहते हैं। हम और कड़ी मेहनत कर रहे हैं, उम्मीद है कि ये प्रक्रिया और बेहतर नतीजे दिलाएगी।”