Jasprit Bumrah’s 5 wicket haul helps India inch closer to a historic win In Nottingham test
Jasprit Bumrah of India celebrates dismissing Chris Woakes © Getty Image

भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने टीम इंडिया को तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में शानदार वापसी कराई।

शानदार शतक जमाने वाले जोस बटलर  का विकेट निकालकर बुमराह ने भारत को जीत की दहलीज पर ला खड़ा किया। बुमराह ने चोट के बाद अपनी शानदार वापसी और टेस्ट क्रिकेट में दूसरी बार पांच विकेट लेने के कारनामे का श्रेय कैमरे से इतर की गई कड़ी मेहनत और फिटनेस को दिया। बुमराह ने 85 रन देकर पांच विकेट लिए हैं जिससे इंग्लैंड की टीम तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में 521 रन के मुश्किल लक्ष्य का पीछा करते हुए चौथे दिन नौ विकेट पर 311 रन बनाकर हार के कगार पर पहुंच गई है।

उन्होंने कहा, ‘‘जब मैंने प्रथम फर्स्टक्लास क्रिकेट में डेब्यू किया तो मेरा पहला स्पेल दस ओवर का था। मैं रणजी ट्रॉफी में हमेशा अधिक से अधिक ओवर करता रहा और जिससे मुझे मदद मिली। इसका मुझे आज भी फायदा मिला।’’

बुमराह ने कहा, ‘‘जब मैं चोटिल था तो मैंने अपनी फिटनेस और अभ्यास पर ध्यान दिया। मैं हमेशा अपने ट्रेनर के संपर्क में रहा ताकि वापसी करने पर मैं अच्छी स्थिति में रहूं। इन सभी से मुझे आज मदद मिली।’’

बुमराह ने दूसरी बार टेस्ट क्रिकेट में पारी में पांच विकेट लिए। बुमराह ने कहा, ‘‘आपको कुछ भी आसानी से नहीं मिलता। आपको इसके लिए काम करना होता है। हमने कड़ी मेहनत की। इस कड़ी मेहनत से आपको ऐसे दिनों में सफलता मिलती है। कैमरे से इतर हम जो कड़ी मेहनत करते हैं, ऐसे दिनों में उसका नतीजा देखने को मिलता है।’’

बुमराह ने कहा, ‘‘सीमित ओवरों में चीजें भिन्न होती है। वहां आप चतुराई से बल्लेबाज को छकाते हैं और यहां टेस्ट क्रिकेट में संयम और निरंतरता ही सब कुछ है। आज मेरा ध्यान इसी पर था। मैं हमेशा अच्छी लेंथ से गेंदबाजी करने पर ध्यान देता हूं तथा अच्छी लेंथ से बल्लेबाज को चुनौती देता हूं। आखिर में यह दिन अच्छा रहा। मैं उसके (जो रूट) बल्ले का किनारा लेने में सफल रहा।’’

(एजेंसी इनपुट)