जयंत यादव ने वाइजैग और मोहाली दोनों मैचों में बेहतरीन बल्लेबाजी की थी। © AFP जयंत यादव ने वाइजैग और मोहाली दोनों मैचों में बेहतरीन बल्लेबाजी की थी। © AFP
जयंत यादव ने वाइजैग और मोहाली दोनों मैचों में बेहतरीन बल्लेबाजी की थी। © AFP

मोहाली टेस्ट में भारत की जीत के पीछे का सबसे बड़ा कारण थे ऑल राउंडर्स। रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा और जयंत यादव के हरफनमौला प्रदर्शन की वजह से भारतीय टीम इंग्लैंड के दो कदम आगे रही। अश्विन और जडेजा की काबिलियत से तो सभी वाकिफ थे लेकिन जिस खिलाड़ी ने अपनी शानदार बल्लेबाजी से सभी को प्रभावित किया है वह हैं दिल्ली के जयंत यादव। यादव ने इस सीरीज के दूसरे टेस्ट से अपना टेस्ट डेब्यू किया था और पहले ही मैच में गेंद और बल्ले से कमाल दिखाया था। अश्विन को अपना दोस्त कहने वाले जयंत ने मोहाली टेस्ट के बाद यह खुलासा किया कि आखिर कौन है जिसकी वजह से उनकी बल्लेबाजी इतनी बेहतर हुई। ये भी पढ़ें: युवराज सिंह ने गोवा में हेजल कीच के साथ लिए सात फेरे

यादव ने कहा कि भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच संजय बांगड़ ने उसकी बल्लेबाजी को निखारने में काफी मदद की। जयंत ने कहा, “मेरी बल्लेबाजी स्वाभाविक है और मैंने इस सीरीज से ही नेट पर अभ्यास करना शुरू किया था। मैं और संजय मिलकर दो चीजों पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं, पहली यह कि मुझे विकेट पर थोड़ा और खुलकर खड़े होना होगा ताकि मैं बेहतक संतुलन बना सकूं और दूसरी यह कि मुझे हाथ शरीर के और ज्यादा पास रखने होंगे ताकि मैं उन पर नियंत्रण कर सकूं।” यादव ने यह भी कहा कि बांगड़ के हर सुझाव को वह गंभीरता से लेते हैं और उस पर काम करते हैं। उन्होंने कहा, “यह सब छोटी-छोटी तकनीक हैं जिन पर हम काम कर रहे हैं। उम्मीद है कि मैं इसके बाद मैं अपनी बल्लेबाजी को और बेहतर कर पाउंगा।” ये भी पढ़ें: चौथे टेस्ट के लिए बजट में कटौती करेगा महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन

फिलहाल जयंत बाकी खिलाड़ियों की तरह चौथे टेस्ट के पहले मिले समय में आराम कर रहे हैं। साथ ही वह अपने अभ्यास पर भी ध्यान दे रहे हैं। भारत बनाम इंग्लैंड चौथा टेस्ट मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाना है। आठ दिसंबर को खेल जाने वाले इस मैच से पहले इंग्लैंड टीम भी आराम करने दुबई गई हुई हैं। भारत पांच मैचों की इस सीरीज में 2-0 से आगे है।