© Getty Images
© Getty Images

रणजी ट्रॉफी अगले कुछ दिनों में शुरू होने जा रही है। पंजाब टीम के लिए अच्छी बात ये है कि इस साल उनका कोई भी लीग मैच न्यूट्रल वेन्यू में नहीं है। ऐसे में पंजाब टीम इस बार कम से कम सेमीफाइनल तक का सफर जरूर तय करन चाहेगी। पिछले सीजन में पंजाब टीम जूझती नजर आई थी और नॉक आउट में जगह बनाने में असफल रही थी। इस बार पंजाब टीम के नए कोच अजय रत्रा हैं ऐसे में पंजाब टीम हिमाचल के खिलाफ पहले मैच के साथ अच्छी शुरुआत करने को बेताब है। यह मैच शुक्रवार को शुरू होगा।

वैसे इस बार कप्तानी को लेकर पंजाब क्रिकेट असोसिएशन को खासी मशक्कत करनी पड़ी है। उन्होंने पहले टीम का कप्तान हरभजन सिंह को बनाया था, लेकिन जब पता चला कि हरभजन पहले मैच के लिए उपलब्ध नहीं रहेंगे तो युवराज का नाम लिया। लेकिन युवराज ने भी पहले मैच से अपना नाम वापस ले लिया है। ऐसे में अब बल्लेबाज जीवनजोत सिंह टीम की कप्तानी करेंगे।

वैसे कोच अजय रत्रा टीम की तैयारी से खुश हैं। उन्होंने कहा, “युवराज ने लड़कों के साथ नेट पर खासा वक्त गुजारा है और अच्छी सलाह दी है। हमारा एक हफ्ते का तैयारी करते हुए अच्छा कैंप रहा। पंजाब ने पिछले सीजन में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था लेकिन वह पुरानी बात हो गई। पंजाब के पास कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं और उनकी स्किल्स का उपयुक्त अंदाज में इस्तेमाल किया जाना चाहिए। जब हरभजन सिंह और युवराज सिंह टीम में वापसी करेंगे तो पंजाब पावर पैक्ड टीम होगी जिसमें जीवनजोत सिंह, मनन वोहरा, मनप्रीत गोनी, गुरकीरत सिंह मान शामिल होंगे। कुछ खिलाड़ी जल्दी ही अपना रणजी डेब्यू भी करेंगे।”

[ये भी पढ़ें: जीनियस और एंटरटेनर है एमएस धोनी की बेटी, इस बॉलीवुड एक्टर ने की तारीफ]

जैसा कि चयनकर्ताओं ने पहली बार शुभम गिल (18), अभिषेक शर्मा (17), अभिषेक गुप्ता (27), रघु शर्मा (24), और अनमोलप्रीत सिंह (19) को शामिल किया है। ऐसे में पंजाब का भाग्य इस बात पर निर्भर करेगा कि सीनियर कैसा प्रदर्शन करते हैं। जैसा कि युवराज मोहाली कैंप में रत्रा के साथ थे, वहीं हरभजन सिंह धर्मशाला में टीम के साथ जुड़ेगे। रत्रा ने कहा, “मैंने हरभजन सिंह से बात की है और वह जल्दी ही उपलब्ध होंगे। हम मैच के पहले उनकी फिटनेस जांचेंगे।”

इस सीजन में पंजाब अपने तीन शुरुआती मैच अपने घर पर खेलेगी। ये चीज उनके लिए मददगार साबित हो सकती है। युवराज हिमाचल के खिलाफ पहला मैच नहीं खेलेंगे क्योंकि वह बीसीसीआई के फिटनेस टेस्ट के लिए नेशनल क्रिकेट एकेडमी बैंगलोर में होंगे। इस बार पंजाब टीम के साथ बल्लेबाज मनदीप सिंह नहीं खेलेंगे, पिछले दिनों उनकी पीठ की सर्जरी हुई है।