एशेज सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने वाले इंग्लिश तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) का पहला विदेशी दौरा उतना खास नहीं रहा। आर्चर ने न्यूजीलैंड दौरे पर खेली गई दो मैचों की टेस्ट सीरीज में मात्र दो ही विकेट लिए। हालांकि इंग्लैंड टेस्ट टीम के कप्तान जो रूट (Joe Root) का कहना है कि आर्चर इस सीरीज से सीख लेकर आगे बढ़ेगा।

हैमिल्टन टेस्ट ड्रॉ होने के बाद मीडिया के सामने आए कप्तान रूट ने कहा, “मुझे लगता है कि वो इससे काफी कुछ सीखेगा, मुझे वास्तव में ऐसा लगता है। वो स्पष्ट तौर पर एक बेहद रोमांचक प्रतिभा है और उसके पास टेस्ट क्रिकेट और इस टीम को देने के लिए बहुत कुछ है। मुझे यकीन है कि उसे फिर से घातक गेंदबाजी करते देखने में ज्यादा देर नहीं लगेगी।”

इयान चैपल की तल्‍ख टिप्‍पणी पर स्‍टीव स्मिथ ने दिया जवाब

हैमिल्टन में खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में दोहरा शतक जड़ने वाले कप्तान रूट को गेंदबाजों की तरफ से मदद नहीं मिली। रूट की 226 रन की पारी के दम पर 101 रन की बढ़त हासिल करने के बाद इंग्लैंड गेंदबाज न्यूजीलैंड टीम को ऑलआउट करने में असफल रहे। कप्तान केन विलियमसन (Kane Williamson) और रॉस टेलर (Ross Taylor) की शतकीय परियों की मदद से न्यूजीलैंड मैच ड्रॉ कराने में सफल रहा।

इस पर इंग्लिश कप्तान ने कहा, “मुझे लगता है कि हमने ग्रुप के बार में बहुत कुछ सीखा है। जाहिर है कि आदर्श स्थिति वो होती जब हम शानदार प्रदर्शन कर 2-0 से सीरीज जीत लेते इसलिए वो नतीजा नहीं मिला जो हम चाहते थे लेकिन दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले हमें समझ आ गया है कि इस तरह की पिचों पर कूकाबूरा गेंद के साथ क्या हो सकता है। और जैसा कि हमने माउंट मानुगई में किया था, हमें जल्द सीखकर उस चीज को अगले चार मैचों में ले जाना होगा।”

WC फाइनल में केन विलियमसन की खेल भावना देख MCC ने दिया यह बड़ा सम्‍मान

उन्होंने आगे कहा, “आपको विपक्षी टीमों से भी सीखना होगा। आप नील वेगनर जैसे खिलाड़ी को देखते हैं- उसका दिल बड़ा है, एक बड़ा इंजन है जो चलता ही रहता है। और आपको यही चाहिए, आपको वो खिलाड़ी चाहिए जो बार बार खुद को इस स्थिति में लाना चाहते हों, जो लगातार मौके बनाना चाहते हों और खेल बदलने की कोशिश करना चाहते हों।”

न्यूजीलैंड से बोरिया बिस्तर बांधकर इंग्लैंड टीम अब दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाएगी। 17 दिसंबर से शुरू होने वाले इस दौरे पर इंग्लैंड टीम को दो अभ्यास मैचों के बाद चार मैचों की बड़ी टेस्ट सीरीज खेलनी होगी।