Jofra Archer can help us win the Ashes in Australia: Ben Stokes
जोफ्रा आर्चर, बेन स्टोक्स (IANS)

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के उप-कप्तान बेन स्टोक्स का मानना है कि युवा तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ऑस्ट्रलिया में 2021-22 में अपनी टीम को एशेज जिताने में मदद कर सकते हैं। आर्चर ने हाल में 2-2 से ड्रॉ हुई सीरीज में पांच मैचों में कुल 22 विकेट लिए थे। उन्होंने विश्व कप का खिताब जीतने में भी इंग्लैंड की काफी मदद की थी।

‘द गार्जियन’ ने स्टोक्स के हवाले से बताया, “मैं नहीं समझता कि मैंने अपने समय में उनसे ज्यादा टैलेंटेड क्रिकेटर देखा है। टीम में ऐसा गेंदबाज होना अच्छा है। इसमें कोई शंका नहीं कि वो 2021-22 में ऑस्ट्रेलिया में एशेज जीतने में हमारी मदद कर सकते हैं। वो कंट्रोल के साथ 90 मील प्रति घंटा की रफ्तार से गेंद कर सकते हैं और ऐसा गेंदबाज दुनिया के किसी भी हिस्से में घातक होता है।”

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू एशेज सीरीज में इंग्लैंड के प्रदर्शन पर स्टोक्स ने कहा, “शीर्ष बल्लेबाजी क्रम में लगातार बदलाव और बाकी मुश्किलों को ध्यान में रखते हुए मुझे लगता है कि टेस्ट टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया। ऐसा लगता है कि हमने अपने आखिरी मैच में एक फॉर्मूला ढूंढ लिया है जो कि हमारे लिए काम कर रहा है और हम इस पर आगे काम कर सकते हैं।”

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहाली टी20 में रिषभ पंत पर दबाव

स्टोक्स ने आगे कहा, “जो डेनली के पास सलामी बल्लेबाजी का अनुभव है और उसने अपने करियर में लंबे समय तक ये किया है और वो इस भूमिका में कंफर्टेबल है। मेरा मानना है कि हमने ऐसा कुछ ढूंढ लिया है जो हमारे लिए काम करता है और उम्मीद है कि हम इसे बरकरार रख सकें ताकि जब खिलाड़ियों को मौका मिले तो वो लगातार अच्छा प्रदर्शन कर सकें।”

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी एशेज टेस्ट में गेंदबाजी के लिए पूरी तरह से फिट ना होने की वजह से स्टोक्स स्पेशलिस्ट बल्लेबाज के तौर पर चौथे नंबर पर खेले थे। भविष्य में इसी स्पॉट पर खेलने को लेकर उन्होंने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो मैं निश्चित नहीं हूं। ये पूरी तरह से टीम कॉम्बिनेशन और संतुलन पर निर्भर करता है। साफ तौर पर ये एक विकल्प है और इस हफ्ते इंजरी की वजह से गेंदबाजी ना कर पाने से हमें बदलाव करने पड़े और चौथे सीमर को लाना पड़ा। ये इस पर निर्भर करता है कि रूटी (कप्तान जो रूट) टीम के संतुलन को लेकर क्या चाहता है और किस खिलाड़ी को जगह देता है।”