Jofra Archer was unable to play without painkillers during the World Cup
Jofra Arcer Moeen Ali (File Photo) @ Cricket World Cup Twitter

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने खुलासा किया कि विश्व कप के दौरान उन्हें बहुत दर्द झेलना पड़ा था और वे टूर्नामेंट के दूसरे हाफ में बिना दवाइयों (पेन किलर) के एक मुकाबला भी नहीं खेल पाए। आर्चर ने विश्व कप में इंग्लैंड के लिए कुल 20 विकेट लिए और मेजबान टीम को पहली बार खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर में भी गेंदबाजी की थी।

पढ़ें:- INDA v WIA: शाहबाज नदीम के पांच विकेट हॉल से मजबूत स्थिति में भारत

टूर्नामेंट के पांचवे मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ आर्चर को चोट लगी। इसके बाद, इंग्लैंड को भारत एवं न्यूजीलैंड का सामना करना था जिसके कारण कप्तान इयोन मोर्गन ने तेज गेंदबाज को आराम नहीं दिया।

बीबीसी ने आर्चर के हवाले से बताया, “दर्द काफी ज्यादा था। मैं भाग्यशाली रहा कि उससे जूझने में कामयाब रहा। चोट बहुत बुरी थी और मैं अफगानिस्तान के बाद हुए मैचों में बिना दवाइयों (पेन किलर) के नहीं खेल पाया।”

पढ़े:- बीसीसीआई के दखल के बाद शमी के वीजा को मिली मंजूरी

आर्चर ने कहा, “टूर्नामेंट के दौरान मुझे एक सप्ताह का भी आराम नहीं मिला क्योंकि मैच जल्दी-जल्दी हो रहे थे। मुझे एक सप्ताह और 10 दिनों की जरूरत थी।” इंग्लैंड की टीम एक अगस्त से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रतिष्ठित एशेज सीरीज खेलेगी। आर्चर ने अभी तक अपने देश के लिए टेस्ट मैच नहीं खेला है।