John Hastings retires from all forms of cricket
John-Hastings-and-Mitchell-Marsh @ Getty Images (file image)

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जॉन हैस्टिंग्स ने फेफड़ों की रहस्यमयी बीमारी के कारण क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है।

ऐसा इसलिए क्‍योंकि यदि वो क्रिकेट खेलना जारी रखते हैं तो उनकी मौत तक हो जाने की आशंका है।

खेल के तीनों प्रारूपों में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करने वाले हैस्टिंग्स ने पिछले महीने खुलासा किया था कि वह एक बीमारी से जूझ रहे हैं जिसके कारण वह जब भी गेंदबाजी करते हैं तब उनके मुंह से खून आता है।

उन्होंने कई साल पूर्व पहली बार इसका अनुभव किया था लेकिन कई परीक्षण और ऑपरेशन के बावजूद नहीं पता चला कि इसका कारण क्या है।

हैस्टिंग्स ने बुधवार को मेलबर्न में ‘द ऐज’ समाचार पत्र से कहा, ‘यह उस वक्त ही होता है जब मैं गेंदबाजी करता हूं। क्रीज पर दबाव पड़ने से मेरे फेफड़ों की छोटी रक्त धमनियां फट जाती हैं।’

उन्होंने कहा, ‘इसके कारण जब भी मैं गेंदबाजी का प्रयास करता हूं तब नियमित तौर पर मेरे मुंह से खून आता है। यह काफी डरावना है।’

33 साल का यह गेंदबाज अगले महीने ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश लीग (बीबीएल) में खेलने की योजना बना रहा था। उन्होंने कहा कि इस समस्या के अलावा वह स्वस्थ हैं।

हैस्टिंग्‍स ने कहा कि उन्होंने संन्यास का फैसला इसलिए किया क्योंकि चिकित्सक उन्हें यह आश्वासन देने में विफल रहे थे कि खेलना जारी रखने पर क्रिकेट के मैदान पर उनकी मौत नहीं होगी।

उन्होंने कहा, ‘ मैं अब ट्रेनिंग कर रहा हूं। वजन उठाने या मुक्केबाजी करने में ऐसा नहीं होता। असल में गेंदबाजी करते हुए दबाव पड़ने पर ही यह होता है।’

हैस्टिंग्‍स ने ऑस्ट्रेलिया की ओर से एक टेस्ट, 9 टी20 और 29 वनडे मैच खेले।

(इनपुट-भाषा)