Jos Buttler: No need to panic, We’re one-nil down, there’s four matches to go
जोस बटलर (Getty images)

एशेज सीरीज के पहले टेस्ट में 251 रन के बड़े अंतर से हारने के बावजूद इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर परेशान नहीं है। बटलर का कहना है कि उनकी टीम केवल 0-1 से पीछे हैं और अभी चार और मैच खेले जाने हैं।

14 अगस्त से होने वाले लॉर्ड्स टेस्ट की तैयारियों के बीच बटलर ने कहा, “परेशान होने की कोई जरूरत नहीं, हम 0-1 से पीछे हैं, अभी चार और मैच बाकी हैं। टेस्ट क्रिकेट मुश्किल है, आप दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के खिलाफ खेल रहे हैं। और अगर आप लंबे समय तक अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो आप मैच नहीं जीत पाएंगे।”

बटलर ने आगे कहा, “लेकिन आपको पता है कि आपके पास एक शानदार टीम और आपको शांत रहना होगा। हमारे मैच हारने से कुछ बदला नहीं है लकिन हम यहां उत्साह के साथ आए हैं और हमें विश्वास है कि हम ये टेस्ट जीत कर 1-1 से बराबर आने के काबिल हैं।”

जोस बटलर ने कहा- गेंदबाजों की कड़ी परीक्षा लेते हैं स्टीव स्मिथ

इंग्लिश बल्लेबाज ने भले ही ये कहा हो कि हार से टीम की मानसिकता में कोई बदलाव नहीं आया है लेकिन लॉर्ड्स टेस्ट के लिए इंग्लैंड के स्क्वाड में दो बड़े बदलाव हुए हैं। सीनियर तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की जगह युवा जोफ्रा आर्चर को मौका दिया गया है और ऑलराउंडर मोइन अली की जगह स्पिनर जैक लीच को स्क्वाड को टेस्ट टीम में शामिल किया गया है।

लीच को एशेज स्क्वाड में शामिल करने का सबसे बड़ा कारण हैं स्टीव स्मिथ। टेस्ट क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक स्मिथ का 62.96 का शानदार औसत बाएं हाथ के स्पिनर के खिलाफ गिरकर 34 का हो जाता है। और इंग्लैंड टीम इसका फायदा उठाना चाहती है।

हर फॉर्मेट में एक्स-फैक्टर लाते हैं जोफ्रा आर्चर: जोस बटलर

इस गेंदबाज के बारे में बात करते हुए बटलर ने कहा, “मैं उसके लिए उत्साहित हूं। उसने यहां तक पहुंचने के लिए बहुत मेहनत की है। वो टीम में आएगा और टीम में आने के लिए वो बहुत अच्छा शख्स है। वो अपने साथ काफी ऊर्जा लाएगा, गेंद के साथ अपनी काबिलियत लाएगा और वो इस चुनौती के लिए उत्साहित होगा। मुझे यकीन है कि वो लॉर्ड्स पर बल्लेबाजी करने के लिए भी उत्साहित होगा।”