बचपन में हर क्रिकेट फैन ये सोचा करता होगा कि अगर उसके सभी पसंदीदा खिलाड़ी एक ही टीम के लिए खेलते तो कैसा होता। जैसे सचिन तेंदुलकर-ब्रायन लारा, शेन वार्न-अनिल कुंबले और मौजूदा क्रिकेट में विराट कोहली (Virat Kohli) और एबी डिविलियर्स (AB De Villiers)। वैसे फैंस का ये सपना इंडियन प्रीमियर लीग की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) फ्रेंचाइजी ने पूरा किया, जब टीम ने इन दोनों दिग्गजों को अपने स्क्वाड में शामिल किया।

इंग्लिश विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर (Jos Buttler) का भी यही कहना है। उन्होंने कहा, ‘‘बचपन में आप यही – फैंटेसी क्रिकेट – खेलते हुए देखना चाहते हो। सभी टीमों को एक साथ मिलाओ तो यह ऐसा ही होगा कि कोहली और डिविलियर्स एक साथ खेलें। ’’

बीबीसी पोडकास्ट ‘द दूसरा’ में बटलर ने कहा, ‘‘आईपीएल की टीमों में खिलाड़ियों का मिश्रण शानदार है। बेंगलोर की टीम शीर्ष तीन टीमों में शामिल रही है जिसमें विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और क्रिस गेल रहे हैं जिनहें जसप्रीत बुमराह या डेल स्टेन या फिर लसिथ मलिंगा के खिलाफ देखना शानदार है।’’

बटलर को लगता है कि आईपीएल ने इंग्लिश क्रिकेट को आगे बढ़ाने में मदद की है और साथ ही उन्होंने स्वीकार किया कि ये लुभावना टी20 टूर्नामेंट आईसीसी विश्व कप के बाद सर्वश्रेष्ठ प्रतियोगिता है। बटलर ने कहा कि वह इस साल के आईपीएल चरण का हिस्सा बनने के लिये बेताब हैं जिसे कोविड-19 महामारी के कारण अनिश्चितकाल के लिये स्थगित कर दिया गया है।

विश्व कप विजेता इंग्लैंड टीम का यह विकेटकीपर बल्लेबाज आईपीएल में दो फ्रेंचाइजी टीमों का हिस्सा रह चुका है। 2016-17 सत्र में मुंबई इंडियंस के लिये खेलने के बाद बटलर 2018 में राजस्थान रायल्स का हिस्सा बने।

बटलर ने कहा, ‘‘इसमें कोई शक नहीं कि आईपीएल ने इंग्लिश क्रिकेट के और पिछले कुछ सालों में जो खिलाड़ी इसमें शामिल हुए हैं, उनके विकास के मदद की है।मैं इसमें खेलने के लिये बेताब था। मेरे हिसाब से ये विश्व कप के बाद विश्व का सर्वश्रेष्ठ टूर्नामेंट है।’’