‘वित्तीय संकट का क्रिकेटर्स पर भी पड़ेगा असर, वेतन कटौती को तैयार हैं ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी’
Josh Hazelwood @ians

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ‘थोड़े’ हैरान हैं कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) को कोविड-19 महामारी के कारण वित्तीय रूप से जूझना पड़ रहा है लेकिन उन्होंने कहा कि खिलाड़ी और क्रिकेट संघ एकजुट होकर काम करेंगे और इस संकट से उबर जाएंगे।

कोरोना वायरस महामारी के कारण सभी तरह की क्रिकेट गतिविधियां ठप्प पड़ने के कारण सीए ने 30 जून को खत्म हो रहे बाकी बचे वित्तीय वर्ष तक अपने 80 प्रतिशत स्टाफ को निकाल दिया है। खबर में सुझाव दिया गया है कि अगस्त तक सीए के पास भुगतान के लिए धनराशि नहीं बचेगी।

डु प्‍लेसिस समझा रहे थे कैसे धोनी के राज में चमका CSK, कर बैठे खुद की ही तारीफ

‘सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड’ ने हेजलवुड के हवाले से कहा, ‘मैं थोड़ा हैरान था लेकिन इसमें कोई संदेह नहीं है कि इसका असर पड़ेगा।’ हेजलवुड ने कहा कि वित्तीय संकट का क्रिकेटरों पर भी असर पड़ेगा और वे कटौती के साथ वेतन लेने को तैयार हैं।

उन्होंने कहा, ‘हम बाकी अन्य खेलों से अलग नहीं हैं। यह इस पर निर्भर करता है कि आप कब तक इसका सामना कर सकते हैं और इसका क्या असर पड़ता है। अगर यह अगली गर्मियों तक चलता है तो यह काफी गंभीर होगा।’

हेजलवुड ने कहा, ‘बेशक हम खेल में साझेदार हैं और हमने हमेशा ऐसा कहा है। हमने अच्छा समय देखा है और यह संभवत: थोड़ा मुश्किल समय है।’

सीए और ऑस्ट्रेलिया क्रिकेटर्स संघ (एसीए) के बीच 2017 में वेतन भुगतान को लेकर विवाद हुआ था लेकिन हेजलवुड ने कहा कि तब से रिश्तों में सुधार आया है और उन्होंने उम्मीद जताई कि इस बार इस संकट से बेहतर तरीके से निपटा जाएगा।

गिलेस्‍पी ने माना, ब्रायन लारा के मुकाबले सचिन तेंदुलकर का विकेट निकालना था मुश्किल

उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि एसीए और सीए के बीच अब रिश्ते कहीं बेहतर हैं। पिछले 18 महीने से दो साल में इसमें काफी सुधार हुआ है। इससे इस बार इस समस्या से कहीं बेहतर तरीके से निपटने में मदद मिलेगी। हमारी तरफ से सब कुछ सकारात्मक है और मुझे लगता है कि दोनों तरफ से।’

वर्ष 2017 के एमओयू के अनुसार सीए को आगामी गर्मियों के लिए 30 अप्रैल तक एसीए को संभावित राजस्व और राष्ट्रीय अनुबंध की सूची सौंपनी होती है और हेजलवुड को उम्मीद है कि इस समय सीमा का पालन किया जाएगा जिससे कि खिलाड़ी वित्तीय संकट से निपटने के लिए बेहतर तरीके से तैयार रहे।