‘Just doing my job’, says Kusal Perera after epic win over South Africa in Durban
Kusal Perera (AFP)

प्लेयर ऑफ द मैच कुसल परेरा की धमाकेदार शतक पहलेीय पारी के दम पर श्रीलंका ने पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका पर एक विकेट से शानदार जीत दर्ज की। परेरा ने कहा, “जब मैं निचले क्रम के साथ बल्लेबाजी कर रहा था, तो मुझे पता था कि हम इस मैच को सिर्फ एक-दो रन से नहीं जीत सकते। मैं अंतिम उचित बल्लेबाज था। जब समय मेरे लिए सही लगा, तो मैंने अपने मौके बनाए।”

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने ज्यादातर समय स्ट्राइक अपने पास रखने में कामयाबी हासिल की और कुछ धमाकेदार स्ट्रोक खेले, जिसमें तेज गेंदबाज डेल स्टेन के खिलाफ दो छक्के और कगिसो रबाडा, डुआने ओलिवियर और केशव महाराज के ओवरों में एक-एक छक्के शामिल थे।

दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने परेरा को सुपरमैन कहा। डु प्लेसिस ने कहा, “ये एक ‘सुपरमैन’ प्रयास था। वो सभी प्रशंसाओं का हकदार है।”

इस पर परेरा ने कहा, “मैंने करीबी सीमा तक पहुंचने की कोशिश की। मैं वास्तव में स्टेन को दो या तीन छक्के मारना चाहता था क्योंकि हम करीब आ रहे थे। शुक्र है कि मैं ऐसा करने में सक्षम था। मुझे लगता है कि मेरा निर्णय लेना वास्तव में अच्छा था।”

ये भी पढ़ें: इंग्लैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज वनडे टीम में कार्लोस ब्रेथवेट को जगह

परेरा ने फर्नांडो की प्रशंसा की, जिन्होंने प्रथम श्रेणी क्रिकेट के इतिहास में रनों का पीछा करते हुए चौथी पारी में आखिरी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी बनाई। परेरा ने कहा, “जब मैं विश्वा के पास आया तो हमने स्कोरबोर्ड को भी नहीं देखा था और हमारे पास बनाने के लिए बहुत सारे रन थे। मैंने बस ओवर दर ओवर खेल धीरे धीरे हमें लक्ष्य के पास लाने के हिसाब से खेलने की कोशिश की।”

ये भी पढ़ें: कुसल परेरा की शतकीय पारी के बूते श्रीलंका ने द.अफ्रीका को 1 विकेट से हराया

उन्होंने बताया, “विश्व ने मुझसे कहा ‘मैं अपने शरीर से गेंद को मारूंगा, अगर कुछ नहीं कर सका। तुम वही करो जो तुम कर सकते हो।” मैंने उससे बहुत हिम्मत ली। बिना किसी डर के मैंने सिंगल लिया और स्ट्राइक उसे दे दी। उसने बहुत बड़ा काम किया।” परेरा की इस शानदार पारी और फर्नांडो के साहस ने श्रीलंका को वो जीत दिलाई है जिसकी उन्हें लंबे समय से जरूरत थी, और श्रीलंका क्रिकेट इस जीत को लंबे समय तक याद रखेगा।